-->

शेयर मार्किट मे निवेश कैसे करे? Invest In Shares

शेयर बाजार के बारे मे सब लोग जानते है लेकिन उनमे से बोहोत कम लोग शेयर मार्किट मे निवेश करते है और वो भी म्यूच्यूअल फण्ड जैसी निवेश होती शेयर बाजार को लेकर बोहोत सारे गलतफहमी और ज्यादा जानकारी न होने के कारन बोहोत सारे लोग निवेश और ट्रेडिंग करने मे घबराते है इसलिए मे आपको इस सेक्शन द्वारा आर्टिकल की पूरी सीरीज ला रहा हु जिस्मे मे शेयर बाजार के हर एक बात पहलु को ध्यान से समझाऊंगा सिखाऊंगा और आपके ज्ञान को बढ़ने की कोशिश करूँगा जिससे आपकी रूचि इसमे बढे। कुछ लोग ऐसे भी है जिनको निवेश तो करना है लेकिन शुरवात कैसे करे नहीं पता इसलिए आज हम इससे शुरू करते है।





    शेयर बाजार मे  निवेश की शुरवात कैसे करे ?


    शेयर बाजार निवेश करने के लिए आपके पास DMAT खाता होना जरुरी है और इसे ओपन करने के लिए आपके पास ये चीजे पहले से होना जरुरी है।


    • आपका किसी भी बैंक मे बचत खाता होना जरुरी है। 
    • अगर आप खुद ट्रेडिंग करना चाहते है तो आपके पास कंप्यूटर या मोबाइल होना चाहिए। 
    • और सिर्फ कंप्यूटर और मोबाइल होने से बात नहीं बनेगी आपके पास इंटरनेट भी होना चाहिए (वैसे इस दौर मे इंटरनेट बोहोत सस्ता और आसानी से मिल जाता है। )

    ट्रेडिंग (DMAT ) खता चालू करने के लिए यहाँ दस्तावेज देने होंगे 

    • id प्रूफ PAN Card 
    • एड्र्रेस प्रूफ आधार कार्ड 
    • बैंक पासबुक या फिर बैंक स्टेटमेंट 
    • और आपका फोटो 
    इन सभी दस्तावेज के साथ आप जिस बस्टॉक ब्रोकर के साथ जुड़ना चाहते है आप जुड़ सकते है आप जिस स्टॉक ब्रोकर को चुनेंगे उसके साथ यह सभी दस्तावेज आवेदन के साथ और फी के साथ के भरने होते है। 

    सबसे अच्छा स्टॉक ब्रोकर कैसे चुने :


    सबसे अच्छा स्टॉक ब्रोकर चुनने से पहले आपको कुछ बुनियादी बातें समझ लेनी चाहिए जिससे आपको ब्रोकर चुनने मे आसानी होगी यह बोहोत महत्वपूर्ण और कठिन कदम होता है क्यों की सभी ब्रोकर अच्छे डिस्काउंट देते है लेकिन उनमेसे सबसे अच्छा कौनसा समझ पाना मुशिकल होता है। ब्रोकर के २ प्रकार  है.

    1. फुल टाइम सर्विस ब्रोकर :
    2. डिस्काउंट ब्रोकर :

    १ फुल टाइम सर्विस ब्रोकर:


    फुल टाइम सेवा देने वाले ब्रोकर सर्विस बोहोत पहले से और व्ययवसायिक सेवा देने के लिए जाने जाते यह ब्रोकर सभी तरह की ब्रोकिंग दलाली सेवा देते है। जैसे की शेयर स्टॉक ट्रेडिंग, शेयर के  पूरी पड़ताल उसका रिसर्च इसके आलावा शेयर और निवेश ,सम्बन्धी सलाह भी देते है। 

    अच्छी बात :आप इस ब्रोकर के साथ कमोडिटीज और करंसी बाजार मे भी निवेश कर सकते है। इसके आलावा म्यूच्यूअल फण्ड फोरेक्स ट्रेडिंग आईपीओ फिक्स्ड डिपाजिट इन्शुरन्स सरकारी बांड जैसे सेवाएं एक ही ब्रोकर देता है। 

    बुरी बात :इस तरह के ब्रोकर सर्विस हर ट्रेड पर कमिशन लेते है और इसका दर भी ज्यादा होते है। जैसे की शेयर बेचना और खरदीदने पर आपको ब्रोकरेज देना पड़ता है। और डिस्काउंट ब्रोकर के मुकाबले चार्ज कमिसन जरा ज्यादा होता है।

    कुछ सबसे अच्छे फुल टाइम सर्विस ब्रोकर्स :HDFC सिक्योरिटीज , ICICI डायरेक्ट ,कोटक सिक्योरिटी ,शेरखान मोतीलाल ओसवाल।


     २) डिस्काउंट ब्रोकर :


    जब आप शेयर बाजार को अच्छे से जानते हो और आप ट्रेडिंग के लिए शेयर बाजार मे निवेश करना चाहते हो तब डिस्काउंट ब्रोकर एक अच्छा विकल्प है। डिस्काउंट ब्रोकर सिर्फ शेयर खरीदने और बेचने के लिए सेवा देती है। शेयर खरदीने के समन्धित ऐसी कोई सेवा नहीं देती है ये सब आपको करना पड़ता है।

    अच्छी बात :फुल टाइम सर्विस ब्रोकर के मुकाबले डिस्काउंट ब्रोकर कम ब्रोकरेज चार्ज लेते है यहाँ से आप किसी भी बैंक खाते के अकाउंट को लिंक कर सकते है और ट्रेडिंग भी फ़ास्ट होती है।

    बुरी बात :वैसे इसे बुरी बात नहीं कह सकते क्यों की अगर आप शेयर बाजार की बारीकियां जानते हो तो इससे आपको कुछ फरक नहीं पड़ता डिस्काउंट ब्रोकर किसी भी प्रकार की सलाह समबधि सुविधा नहीं देती है।

    कुछ सबसे अच्छे डिस्काउंट सर्विस ब्रोकर :zerodha (ज़ेरोढा) ,५ पैसा ,Samco (सॅमको) ,Upstocks ,Prostocks
    जैसे डिस्काउंट ब्रोकरेज कम दाम मे ट्रेडिंग कर सकते है।


    शेयर बाजार मे निवेश करने से पहले इन बातो का रक्खे ध्यान :


    जब आप किसी से शेयर बाजार के बारे मे सुनते है तब अगर वो शेयर बाजार मे ट्रेडिंग करने वाला हो या ब्रोकरेज वाला आपको वो सिर्फ अच्छी बातें ही बतायेगा शेयर बाजार का दूसरा पहलु आपको कोई नहीं बताता ज्यादा तर शेयर बाजार मे नुकसान मे चल रहे लोग भी आपको कुछ गलत बातें बताएँगे इसलिए अगर आपने कुछ मूल बातो  को अच्छी तरह से समझ लिया तो आपकी अगली राह कुछ आसान हो जाएगी।


    १. सेविंग्स के बाद बचने वाली रकम को करे शेयर बाजार मे निवेश :


    जब शेयर बाजार मे निवेश की सोचते है तभी आप सोचते है की जो सेविंग्स मैंने बच्चे की शिक्षा या फिर शादी के लिए रक्खी उसे ही निवेश किया जाये उसको अब टाइम है तो तब तक हम निकल सकते है। तो मे आपको बताना चाहूंगा की आप बिलकुल भी ऐसा मत कीजिये खासतौर पर जब आप शेयर बाजार को सिखने के समय पर होते है इसके आलावा लोन लेकर निवेश करना भी सबसे बुरा साबित हो सकता मैंने ऐसे बोहोत सारे उदहारण देखे है। आपके सैलरी के कुछ जरुरी सेविंग्स के बाद कुछ पैसे बचते है तो आप इसे शेयर बाजार मे निवेश करे।  इसका कारन यही है की शेयर बाजार मे कभी भी कुछ भी हो सकता है।

    २ आपके मंथली इनकम का सही नियोजन करके निवेश करे :


    जो भी आपकी मंथली इनकम हो आपको उसे सही हिस्से मे बटकर सही नियोजन करके बाजार मे निवेश करना चाहिए। ऐसा समझ लीजिये आपकी सैलरी २० हजार है तो सबसे पहले आपको उसमे से परिवार के खर्चे के पैसे अलग कर देने है उसके बाद आपको बच्चो की शादी की शिक्षा आदि कुछ सेविंग्स करनी हो तो उसे अलग कर देना है उसके बाद कुछ नकद आपतकालीन समय के लिए हाथ मे रखना अच्छा होगा फिर जाकर कुछ पैसे बचते है तो आपको इसे शेयर बाजार मे निवेश मे लगाना सही होगा।

    महीने की इनकम पारिवारिक खर्चा  सभी बिल भविष्य बचत आपातकालीन बचत शेयर बाजार निवेश सेविंग्स
    20 हजार  10 हजार  3 हजार  3 हजार  3 हजार  1 हजार 

    ऊपर के टेबल से आप अंदाज़ा लगा सकते है शुरवाती समय मे आप इस तरह निवेश करके आगे बढ़ सकते है आने वाले समय मे आप निवेश की रकम को बढ़ा सकते है।

    यहाँ पढ़े :


    ३ लोन लेकर निवेश न करे :


    जैसे की मैंने ऊपर भी आपको बता दिया है शेयर बाजार मे  कुछ भी निश्चित नहीं होता इसके लिए लोन लेकर निवेश करना जोहर करना साबित हो सकता है।



    4  किस तरह का निवेश करना है लक्ष्य सुनुश्चित करना जरुरी। 


    शेयर बाजार मे निवेश करने से पहले किस तरह का निवेश करना है यह बात सुनिश्चित करना जरुरी है एक लक्ष्य धायण मे रखना जरुरी ही। जब हम निवेश करते है तब कुछ प्लान मन मे रख के करते है जैसे रिटायरमेंट जीवन के लिए बच्चो की शिक्षा उनकी शादी एव इसके आलावा कुछ कम समय के प्लान भी नए कार मकान। इस तरह से लक्ष्य निर्धारित करने से आप आपका निवेश की रकम और अवधि तय कर सकते है।

    ५ निवेश के लिए लक्ष्य के मुताबिक रणनीति बनाये :


    जितना महत्व लक्ष्य निर्धारित करना है उतना ही महत्व रणनीति बनाने को जैसे आपने समय को निश्चित किया उसी तरह ये भी आपको सोचना है की आपको निवेश की राशि एकमुश्त तरीके से निवेश करनी है या SIP (सीप ) के तरीके से निवेश करनी है जब आपका लक्ष्य कम समय का होगा तब आप एकमुश्त राशि निवेश कर सकते है लेकिन ज्यादा समय के लिए SIP का विकल्प फायदेमंद होता है।

    यहाँ पढ़े :SIP क्या है पूरी जानकारी ?


    ६ शेयर मार्किट के बारीकियों को समझे :


    शेयर बाजार मे निवेश करने से पहले शेयर बाजार की सभी बातें ठीक से समझाना जरुरी है इससे आपको शेयर बाजार गिरावट के समय की रणनीति बनाने ने फायदा होता है। इसके लिए संभव हो तो शेयर बाजार के बारेमें कुछ अच्छी किताबे पढनी चाहिए ,अगर आप इसमे करियर बनाना चाहते है तो इसके लिए ट्रेनिंग कोर्स भी करना उचित होगा। मे आपको यहाँ कुछ अच्छे हिंदी बुक्स की लिस्ट बताना चाहूंगा जिससे आप शेयर बाजार को अच्छी तरह से समझ सकते है।

    १ कैसे स्टॉक मार्किट मे करे निवेश -लेखक :टीवी १८ प्रसारण
    २ कैसे  पंहुचा अब्दुल शेयर बाजार मे शुन्य से शिखर तक -लेखक :महेश कौशिक
    ३ हाउ चंदू एअर्नेड एंड चिंकी लॉस्ट इन शेयर मार्किट -लेखक :महेश कौशिक
    ४  विनिंग थ्योरी इन स्टॉक मार्किट --लेखक :महेश कौशिक


    ७  शेयर के सही अभ्यास और निवेश कैसे करे:


    सभी मूल बातें पूरी होने के बाद अब बरी आती है शेयर मे सीधा निवेश पर इसके लिए आपको एक कंपनी को चुनना है और भीड़ उसका अभ्यास करना है। इसके लिए आप आपके पास वाली कंपनी का भी अभ्यास कर सकते है सबसे पहले कंपनी की प्रोडक्शन और सर्विस क्या है ये बात जानना है कंपनी ;का ब्रांड कैसा है पास की कंपनी होने के कारन सभी बातें आपको आसानी मालूम हो जाती है उसके बाद यह भी देखना है की कंपनी शेयर बाजार मे लिस्टेड है क्या नहीं अगर है तो उसकी हाल की प्राइस। आपको यहाँ साड़ी बातें इंटरनेट पर मिल जाती है। शुरवाती निवेश ऐसे कंपनी मे करे जिसके उत्पाद हम अपने रोज के कामो के लिए करते है और उनके बारे मे अलग से खुद का अभ्यास करे।

    जिस कंपनी को आपने चुना है उसके बारे मे अभ्यास करे जैसे की उसका सालाना प्रॉफिट कितना है सेल्स इतना है शेयर पर डिविडेंड कितना देती है फेस वैल्यू क्या है।

    आपको शुरआत इन बड़े ब्रांड वाले शेयर से करनी होगी धीरे धीरे आप दूसरे कंपनी के तरफ बढ़ सकते है।

    ८ चुने हुए शेयर की अभ्यासक सूचि बनाये :


    जो शेयर आपने चुने है उनमे सीधा निवेश करने से पहले उनकी एक सूचि बनाये और सभी महत्वपूर्ण अच्छी और बुरी बातें शेयर की कंपनी के सामने दर्जा करे उनका महीने का उतर चढाव का अभ्यास करे। उनकी हर एक न्यूज़ पर आपको ध्यान रखना है फिर उसके बाद आप शेयर को चुनकर निवेश कर सकते है जिससे आपको सबसे अच्छा शेयर मिलेगा।

    ९ शार्ट टर्म हो या लॉन्ग टर्म हमेशा स्टॉप लोस्स चुने :


    शेयर बाजार मे स्टॉप लोस्स का महत्व बोहोत ज्यादा है खास तौर पर ट्रेडिंग के निवेशकों के लिए इससे भविष्य के नुकसान से बच सकते है। अगर आपका शेयर आपका लक्ष्य तक पहुंच गया है तो आप समधनि से उसे सेल कर कर सकते है लेकिन अगर आपने निर्धारित किये हुए लक्ष्य से बोहोत निचे अगर शेयर गिर रहा है तो आपको उसे बच कर थोड़ा सा लोस्स लेना ही अच्छा होगा।

    १० एक तरह के शेयर न ख़रीदे :


    इसका मतलब एक ही सर्विस देने वाले प्रोडक्शन देने वाले शेयर न ख़रीदे अपने निवेश मे अलग अलग तरीके के शेयर रखे इसको एक उदहारण से समझे अगर आपके पास सुजुकी और हीरो मोटोकॉर्प दोनों कप्म्पनी के शेयर है तो आपका निवेश अलग नहीं हो सकता क्यों की दोनों कम्पनिया कार इंडस्ट्रीज से है अगर इस क्षेत्र कुछ हलचल होती है तो आपके दोनों शेयर गिर जीतेंगे ऐसे मे आपके प्रोटोफोलिओ मे संभालना मुक्शील हो जायेगा।

    इसके लिए आपको आपके निवेश पीर्टोफोलिओ मे अलग तरह के इंडस्ट्रीज के व्यवसाय के शेयर रखने होंगे।

    ११ पैसो से निवेश सीखे :


    शुरवात मे आपको शेयर बाजार सीखना जरुरी है ऐसे मे आपको कम पैसे से शुरवात करनी चाहिए और इनसे आपको प्रॉफिट के लिए नहीं बल्कि निवेश की कला सिखने के नजर से देखना चाहिए आपका ५०० से भी निवेश शुरवात कर सकते है सीधे ज्यादा की राशि निवेश करनी चाहिए।

    १२ शुरआती निवेश नामी कंपनी मे ही करे :


    जो शुरवाती शेयर बाजार निवेशक होते है उनको शेयर बाजार निवेश की शुरआत अच्छे ब्रांड नाम होने वाले कंपनी से करनी चाहिए जिनके रिकॉर्ड अच्छे होते बोहोत साले इस क्षेत्र मे होते है। और पैसो के बारे मे अच्छे सक्षम होते है। जैसे की हीरो मोटोकॉर्प बाइक इंडस्ट्रीज बोहोत बड़ी कंपनी मणि जाती है। TCS  सॉफ्टवेयर कंपनी ,SUN PHARMA रिलायंस इंडस्ट्रीज ,ऐसे कम्पनिये गिरावट के समय भी स्थिर रहती है। ऐसे शेयर मे निवेश करने से आपका आत्मविशास बढ़ जाता है आपका ज्ञान भी बढ़ता है और धीरे धीरे अनुभव भी आ जाता है।

    १३ खुद के रिसर्च पर भरोसा रखे :


    जब आप निवेश की शुरवात करते है ठीक उसके बाद आपको SMS आने लग जाते इस शेयर मे निवेश करो मुनाफा मिलेगा वगैरा और कई सारे लोग तो पेड टिप्स की सर्विस भी लेते है ऐसे लोग खुद का कुछ भी रिसर्च नहीं करते और टिप्स के अनुसार निवेश कर देते है।

    मे आपको बताना चाहूंगा की हर एक की रणनीति अलग होती है एक बार आपको मुनाफा होगा भी लेकिन हर बार इससे आप नहीं बच सकते इससे आपको नुकसान हो सकता है इसके लिए टिप्स के बाद की अपना खुद का रिसर्च करे और अगर खुद को लगता है तभी निवेश करे। मेहनत के बिना कुछ भी हासिल नहीं होता जब इस तरह के निवेश से कोई पैसे कमाता है तब वो हर बार सफल नहीं हो सकता। जब उसको लाभ हुआ तबकी उसकी रणनीति और शेयर की प्राइस कम होती है और आप जब उसके कहने पर निवेश करते है उसी शेयर की प्राइस बढ़ सकती है और रणनीति से आपको नुकसान हो सकते है।


    १४ सोच समझकर निवेश :


    जब आप किसी बैंक से लोन के लिए आवेदन करते है तो बैंक आपको सीधा लोन कभी नहीं देती बल्कि पहले आपके बारे मे पूरी जानकरी लेती है आपकी लोन को वापिस करने की क्षमता को देखती है फिर आपको लोन मिलता है। ठीक उसी प्रकार सोचिये आप आप जी कंपनी मे निवेश कर रहे है उनसे आप नफे की उम्मीद कैसे कर सकते है। जिस कंपनी मे निवेश करेंगे उसकी पूरी जानकारी उसका प्रोड्कशन का जनकारी आपको होनी चाइये इसलिए सोच समझकर करे निवेश।


    १५ अपने लक्ष्य पर ध्यान रखे :


    कुछ महीनो बाद अगर ऐसा होता है की आपके शेयर बोहोत अच्छे प्रॉफिट मे है तो एकदम से आप खुश होकर निवेश बढ़ा देते है। इससे अगर आपने लम्बे समय के लिए शेयर पर नियंत्रण नहीं कर पाते इसके लिए खुद पर सयम करके निर्धारित प्लान के अनुसार सभी बातें करे। अगर आपका खुद पर कण्ट्रोल नहीं है तो आप पैसे पर कण्ट्रोल नहीं कर सकते है।

    १६  हमेशा सीखते रहे आगे बढ़ते रहे :


    शेयर बाजार मे कब कुछ भी हो सकता है यहाँ पे आपको हर समय कुछ नया सिखने को मिलेगा पैसे तो आप कमा लेंगे लेकिन आपको हर बात से नया अनुभव मिलेगा नयी सिख मिलगे इसका आपका अनुभव पढ़ेगा।


    १७  निवेश की सेविंग की राशि धीरे धीरे बढ़ाये :


    अगर आप एकमुश्त राशि निवेश कर रहे है तो आपको सालाना निवेश की राशि बढ़ानी चाइये। और SIP द्वारा निवेश कर रहे हो तो आपके उनमे से निवेश की बचत राशि धीरे धीरे बढाकर निवेश को बढ़ाना होगा। इससे आपके निवेश बढ़ेगा। 

    एक टिप्पणी भेजें

    0 टिप्पणियाँ