-->

Sukanya Samruddhi Yojna सुकन्या समृद्धि योजना की पूरी जानकारी हिंदी मे

भारत मे लड़कीओ को ज्यादा पढ़ाया नहीं जाता उनको बोझ समझा जाता था लेकिन ऐसा नहीं होता है बेटी को पढ़ाया जाता है। फिर भी कई ऐसे उदहारण है जिनसे साबित होता की कुछ लोगो की मानसिकता आज भी वैसे ही। इस परिस्तिथि को बदलने के लिए भारत सरकार ने" बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ " योजना शुरू की और इस इसमे सुकन्या समृद्धि योजना भी शामिल है। जिससे बेटी का पढाई का और शादी का खर्चा निकल सके। आप नजदीकी पोस्ट ऑफिस से खता खोल सकते। चलिए जानते है इस योजना के बारे मे



    सुकन्या समृद्धि योजना की विशेष बातें :

    • आप सुकन्या समृद्धि योजना मे खाता खोलकर १ हजार से लेकर १ लाख ५० हजार तक की राशि निवेश कर सकते है। 
    • इस योजना मे आप बेटी १४ साल की होने तक पैसे भर सकते है और फिर २१ साल की होने पर आपको पैसे मिलते है। 
    • अगर आपको इससे पहले पैसे निकलने है तो बेटी १८ साल की होने के बाद आप आधा पैसा निकल सकते है। 
    • आप पोस्ट ऑफिस का आलावा  प्राइवेट बैंक की सहायता से भी इस योजना मे खाता खोल सकते है। 
    • अगर आपकी  २ बेटिया है तो आप २ अलग खाते खोल सकते है। 
    • अंडर सेक्शन ८० C के अनुसार आपको टैक्स मे छूट मिलती है। 

    सुकन्या समृद्धि खाता खोलने के लिए जरुरी दस्तावेज :

    • बेटी का जन्मा प्रमाणपत्र 
    • एड्रेस प्रूफ 
    • आयडी प्रूफ 

    सुकन्या समृद्धि खाता खोलने की प्रक्रिया :

    • सुकन्या समृद्धि खता खोलने के लिए सबसे पहले आपको नजदीकी पोस्ट ऑफिस मे जाना होगा आप निजी बैंक के साथ भी खाता खोल सकते है। आप इस लिंक पर क्लीक करके आवेदन फॉर्म डाउनलोड कर सकते है। सुकन्या समृद्धि  योजना आवेदन फॉर्म 
    • इसके बाद आवेदन फॉर्म भरकर उसके साथ जरुरी दस्तावेज देने होंगे। 
    • सभी दस्तावेजों और जानकारी की पुष्टि होने के बाद आपका खाता १० दिन मे चालू हो जाता है। 

    पोस्ट ऑफिस के आलावा आप इन बैंको के माधयम से खता खोल सकते है। 

    1. बैंक ऑफ़ इंडिया 
    2. विजय बैंक 
    3. यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया 
    4. स्टेट बैंक ऑफ़ हैदराबाद 
    5. आईसीआईसीआई बैंक 
    6. UCO बैंक 
    7. पंजाब नेशनल बैंक 
    8. स्टेट बैंक ऑफ़ त्रावणकोर 
    9. यूनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया 
    10. IDBI बैंक 
    11. इंडियन बैंक 
    12. इंडियन ओवरसीज बैंक 
    13. स्टेट बैंक ऑफ़ मैसूर 
    14. स्टेट बैंक ऑफ़ पटिआला 
    15. बैंक ऑफ़ इंडिया 
    16. बैंक ऑफ़ बड़ोदा 
    17. बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र 
    18. अलाहाबाद बैंक 
    19. आंध्र बैंक 
    20. अक्सिक्स बैंक 

    खाता खोलते समय इस बातो का ध्यान मे रखे :

    • आप सुकन्या समृद्धि योजना मे खाता आपके बेटी के जन्म के बाद कम से कम २५० रुपये जमा करके खाता खोल सकते है। ये राशि आपको हर महीने जमा करनी होगी।  
    • आप एक साल मे डेड लाख से ज्यादा राशि निवेश नहीं कर सकते। 
    • इस खाते का मचोरिटी समय बेटी के २१ साल की या फिर उसकी शादी होने तक होता है। 
    • बेटी के १८ साल पुरे होने के बाद आप बेटी की शिक्षा के लिए राशि पहले निकल सकते है। 
    • हर महीने की निवेश राशि समय पर ना भरने पर आपको ५० रुपये की पेनल्टी देनी होगी। 
    •  आप खता शुरू करने के बाद १५ साल तक राशि निवेश कर सकते है उसके बाद आपको ब्याज मिलेगा और मचोर होने पर आपकी राशि मिल जाएगी। 
    • ऐसा समझ लीजिये की आपने बेटी का खता ६ साल की उम्र मे खोला तो आपको बच्ची के २१ साल की उम्र तक निर्धारित राशि निवेश करनी है और उसके बाद खाता मचोर होने तक आपको आपके निवेश पर ब्याज मिलेगा। 
    • अगर आपने पेनल्टी और राशि उसके बाद नहीं चुके तो जो निर्धारित योजना का ब्याजदर है उसके हिसाब से ब्याज नहीं मिलेगा बल्कि साधरण दर से ब्याज दिया जायेगा। 
    • अगर खातेधारक बेटी की शादी खाता खोलने के बाद २१ साल पुरे होने से पहले हो जाती है। तो आप खाता मे नया निवेश नहीं कर सकते। 
    • सिर्फ भारत मे रहने वाले नागरिक ही इस योजना का लाभ उठा सकते है अगर जिस लड़की का खाता खोला है वो दूसरे देश का नागरिकत्व ले तो योजना मे मिलने वाला ब्याज नहीं ,मिलेगा। 
    ऐसा समझ लीजिये की आप हर साल १ लाख जमा कर रहे है और ब्याजदर ८.५० प्रतिशत है और आपने खता २०१९ मे खोला है तो निचे की टेबल से आपको अंदाज़ा आएगा की आपको कितना ब्याज और कितनी राशि मिलेगी। 



    योजना से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सवाल और उनके जवाब :

    सुकन्या समृद्धि योजना मे राशि कैसे जमा करे ?

    आप इस योजना मे निवेश की राशि ऑनलाइन इलेक्ट्रॉनिक मोड से भी कर सकते है। इसके आलावा सीधे  ब्रांच मे जाकर कॅश चेक भी दाल सकते है। पैसे जमा करते वक़्त जमा करने की स्लिप पर  अकाउंट धारक का नाम और आपका नाम लिखना  जरुरी। 

    क्या इस योजना मे ब्याजदर फिक्स है ?

    इस योजना मे आपको हर ३ महीने मे ब्याजदर बदलती है इसके कारन ब्याजदर कम ज्यादा होती रहती है। 
    जब योजना की शुरवात हुई तब अप्रैल २०१४ मे ब्याजदर ९.१ प्रतिशत था और अभी का ब्याजदर ८.५ प्रतिशत है। 

    २१ साल पुरे  होने के पहले किस परिस्थिति मे खाता बंद कर सकते है?

    • सबसे पहले अगर खातेधारक की मृत्यु हो जाने पर मृत्यु प्रमाणपत्र दिखाकर खाते को बंद कर सकते है। 
    • अगर खातेधारक किसी गंभीर बीमारी है और उसका इलाज करने के लिए 

    १८ साल बाद आंशिक राशि निकासी के लिए क्या करना होगा ?

    • बेटी की १८ साल पुरे होने के बाद उसकी शिक्षा के लिए आप ५० प्रतिशत राशि निकल सकते है। इसके लिए १८ साल पूरा होना अनिवार्य है। 
    • आंशिक राशि निकलने के लिए आपको जिस कारन से आंशिक निकासी करना है उस कारन का एक लिखित आवेदन देना होगा। अगर शिखा के लिए अड्मिशन शुल्क भरना है तो ये कारन हो सकता है। 
    • इसमे आपको मिलनी वाली राशि ५० प्रतिशत से ज्यादा नहीं हो सकती और बेटी अड्मिशन शुल्क के बराबर  हो सकती है। 

    सुकन्या समृद्धि योजना मे खाता दूसरे ब्रांच बैंक मे कैसे ट्रांसफर करे ?

    अगर आपने जिस ब्रांच मे इस योजना का खाता खोला था उस जगह से दूसरे शहर मे शिफ्ट हो रहे हो तो आप दूसरे शाखा मे खाता भी शिफ्ट कर सकते है। इसके लिए कोई अतरिक्त शुल्क नहीं देना पड़ता है। आपको सिर्फ शिफ्ट होने का कारन और उसका प्रूफ दिखाना होता है। इसके आलावा अभी बैंक से आप इलेक्ट्रॉनिक सुविधा से सीधा खाता ट्रांसफर भी कर सकते है। 

    सुकन्या समृद्धि योजना खाता कैसे बंद करे ?

    • अगर आपको सुकन्या समृद्धि खाता मचोर यनेकी २१ साल पहले बंद करना है तो इसके लिए खाताधारक की उम्र १८ से ज्यादा होनी चाहिए इसके लिए  एफिडेविट देना होगा की उम्र १८ से ज्यादा है। 
    • इसके बाद आपको निवेश राशि भरने की जरुरत नहीं। 
    • लेकिन २१ साल पुरे होने के बाद ही आपको पासबुक के निकासी स्लिप भरनी है  फिर आपको ब्याज सहित सभी राशि सोप दी जाएगी। 

    एक टिप्पणी भेजें