-->

प्रधान मंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत १६ करोड़ लाभार्थिवो के खाते मे 36,659 करोड़ की राशि की गयी सीधी बैंक खाते मे ट्रांसफर

Last Updated :9:23 AM 
सौजन्य :PIB ट्विटर 

मुंबई :कोरोना महामारी  के करण पूरा देश लॉक डाउन मे है इसके कारन देश के सभी कारोबार बंद है। जाहिर है लोगो का रोजगार बंद हो गया है। इस बात को सामने रखते हुए भारत सरकार ने सरकार ने राहत पैकेज का एलान किया था जिसमे प्रधान मंत्री गरीब कल्याण योजना से अलग अलग योजवानो मे भारतीयों को राहत देने का एलान किया था। उसके बाद २५ मार्च से कुल १६ करोड़ लाभार्थिवो को खाते मे ३६ हजार ६५९ करोड़ रुपये DBT के जरिये सीधे बैंक खाते मे ट्रांसफर किये जा चुके हैं। इन मे अलग अलग योजना शामिल है लेकिन सब का उद्देश्य लॉक डाउन के कारन कड़ी समस्या से लोगो को राहत पहुचाना। 

राशि ट्रांसफर के लिए PFMS प्रणाली का इस्तेमाल :

  • राशि को लाभार्थी के खाते मे ट्रांसफर करने के लिए PFMS पब्लिक फाइनेंसियल मैनेजमेंट सिस्टम का इस्तेमाल किया गया है। 
  • जिसमे DBT डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के जरिये सभी को लाभ पहुंचाया गया है। 
  • PFMS के जरिये सामाजिक क्षेत्र के योजवानो पर ध्यान रखता है। 
  • और इस क्षेत्र मे विकास के लिए राहत के लिए ट्रांसफर की गयी राशि को ट्रैक करने के काम करता है। 
  • जिससे बड़े योजवानो के खर्चे को ट्रैक करने मे आसानी होती है। 
  • और DBT जिसकी शुरवात भारत सरकर ने २०१३ से की जिसके जरिये सब्सिडी या फिर योजना मे मिलने ;वाली राशि लाभार्थी के सीधे बैंक खाते मे दी जाती है। 

प्रधान मंत्री गरीब कल्याण योजना की योजनाए :

  • इस योजना के तहत 16. 01 करोड़ लाभर्थो वो को २४ मार्च से लेकर १७ अप्रैल २०२० तक 36,659 करोड़ का लाभ दिया गया। 
  • जिसमे १३ अप्रैल २०२० तक 19.86 करोड़ महिला जनधन खाते मे 9930 करोड़ की राशि ट्रांसफर की गयी। 
  • किसान सन्मान निधि योजना के अंतर्गत २ हजार रुपये की किश्त भी इस योजना के तहत दी गयी। 
  • इसके आलावा इसमे उज्वला योजना की मुफ्त सिलिंडर सब्सिडी भी शामिल है। 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां