-->

कोरोना संकट से भारतीय अर्थव्यवस्ता को बचने के लिए RBI ने की नए एलान

Last Updated :12 PM 
सौजन्य :PTI 


मुंबई :कोरोना संकट के कारन देश भर मे लॉक डाउन ३ मई तक बढ़ा दिया गया है इसके कारन हर दिन भारतीय अर्थव्यवस्था की हालत हर दिन ख़राब होते दिखाई दे रही है। इस दौरान शुक्रवार को RBI के गवर्नर शक्ति कांत दस जी ने इकॉनमी को  बचाने के लिए कुछ बड़ी घोषणाएं की। जिससे उन्हें उम्मीद है की देश को आर्थिक रूप से राहत मिलेगी। 

RBI की कुछ प्रमुख एलान :

  • RBI की तरफ से इकॉनमी विकास के लिए और NBFC ,MSME मे हो रही नकदी की कमी को पूरा करने के लिए नाबार्ड को २५ हजार करोड़ ,हाउसिंग फाइनेंस बैंक को १० हजार करोड़ और सिडबी को १५ हजार करोड़ के के मदत का एलान किया। 
  • RBI ने रिवर्स रेपो रेट मे ०. २५ फीसदी की कटौती की है जिसके कारन अभी का रिवर्स रेपो रेट ४ से घटकर ३.७५ फीसदी पर आ गया है। हलाकि रेपो रेट मे कोई बदलाव शामिल नहीं है। RBI को उम्मीद है की इससे लोन सस्ता होगा और आसानी से मिल सकेगा। 
  • RBI की तरफ से बैंक को NPA के लिए ३ महीनो की रहत शामिल है। 

अर्थव्यस्था को बचने के लिए सही हालत पर है नजर :

  • गवर्नर जी ने आगे कहा की इस संकट के बिच बैंक तथा अर्थव्यवस्था पर कड़ी नजर बनाये रक्खे है और हर जरुरी फैसले को तत्काल लिया जा रहा है। 
  • उन्होंने आगे कहा की ऐसे समय GDP मे कमी आ सकती है लेकिन संकट के बाद इसमे तेजी आएगी। 


नकदी संकट के लिए TLRO की सुचना :

  • TLRO के तहत ५० हजार करोड़ का एलान किया गया है जिसमे जिससे छोटे बड़े NBFC को मदत की जाएगी। जिसकी अधिसूचना आज जारी की जाएगी। 

G २० से अच्छी है भारत की स्तिथि :

  • G २० देशो की बात करते हुए दास जी ने कहा की उनके मुकाबले भारत अच्छे स्तिथि मे है। 
  • RBI के मुताबिक इस समय मे भारत का विकसित स्तर GDP 1.9 से आगे बढ़ेगा। 
  • इसके आलावा दुनिया मे करीब ९ ट्रिलियन डॉलर के नुकसान की सम्भावन है। 
  • इसके आलावा निर्यात पर प्रतिबन्ध होने पर भी भारत के पास ११ महीने के आयत की विदेशी मुद्रा होने की बात कही।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां