-->

रिटायरमेंट के बाद के जीवन के लिए एक नियमित इनकम का जरिये यहाँ जाने SBI सरल पेंशन प्लान की जानकारी

रिटायरमेंट प्लानिंग के लिए कई सारे निवेश विकल्प उप्लाभ्दा है मैनू इससे पहले भी ऐसे निवेश विकल्पों के बारे मे चर्चा की है। आज भी एक ऐसा ही विकल्प की जानकारी देने जा रहा हु जिससे आप आपके रिटायरमेंट के बाद एक नियमित इनकम जा जरिये पा सके। मासिक आय के विकल्प वाले पेंशन प्लान लेना इसी बजह से काफी फायदेमंद है। तो चलिए क्या इस प्लान के बारे मे।


    SBI सरल लाइफ पेंशन प्लान की विशेष बाते :(Features Of SBI Saral Life Pension Plan)

    • LIC सरल लाइफ पेंशन प्लान एक नॉन लिंक्ड ट्रडिनेशनल पेंशन प्लान है। 
    • आप 18 साल की उम्र से इस योजना मे निवेश शुरू कर सकते है। 
    • रेगुलर प्रीमियम प्लान के लिए ज्यादा से ज्यादा उम्र 60 साल हो सकती है हुए एकमुश्त प्रीमियम राशि के लिए 65 साल की। 
    • पालिसी का समय रेगुलर प्रीमियम पर 10 साल और सिंगल प्रीमियम पर ५ साल तक का हो सकता है। 
    • इस पालिसी मे आपको कम से कम 1 लाख तक की राशि निवेश करनी होगी। 
    • आप एकमुश्त ,मासिक ,छमाही ,वार्षिक तरीके से पालिसी प्रीमियम भर सकते है। 
    • इस प्लान के तहत आपको सालाना कम से कम 7500 रुपये का प्रीमियम भरना होता है। 
    • आप इस प्लान मे लाइफ इन्शुरन्स का राइडर ले सकते है जिसमे 50 लाख तक का कवर शामिल होता है। जिससे बिमा धारक के मृत्यु होने पर उसको इस कवर राइडर का लाभ मिलता है। 
    •  इस पेंशन  प्लान मे आपको पहले 5 साल मे प्रत्यावर्ती बोनस मिलता है 
    • जिसका दर पहले ३ साल के लिए 2.50  फीसदी और बाद के 2 साल के लिए २.75 फीसदी होता है। 
    सायजन्य :SBI 

    SBI सरल लाइफ पेंशन प्लान के फायदे :(Benifits Of  SBI Saral Life Pension Plan)

    • आपको इस प्लान मे सेक्शन 80 CCC के तहत १ लाख ५० हजार के राशि पर टैक्स बेनिफिट मिलता है। 
    • उसके बाद आप जान एन्युटी प्लान खरीदते है उस पर होने वाले इनकम पर आपको आपके टैक्स स्लैब के अनुसार टैक्स लगता है। बाकि निकले गए मचोरिटी राशि पर कोई टैक्स नहीं लगता है। 
    • हलाकि पालिसी मचोर होने के पहले बंद करने पर सरेंडर करने पर आपको मिले राशि पर टैक्स शुल्क देना पड़ता है। 
    • आप मचोरिटी के बाद आधे पैसे निकलकर आधे की एन्युटी खरीद सकते है। 
    • राइडर विकल्प से आप इस प्लान को एक बिमा पालिसी जैसा भी इस्तेमाल कर सकते है। 
    • डेथ लाभ मे टोटल प्रीमियम की राशि से ज्यादा होता है इसमे प्रत्यावर्ती बोनस ,टर्मिनल बोनस आपको मिलता है ये सब पुरे प्रीमियम के 105 फीसदी तक के लिमिट पर शामिल है। 
    • डेथ लाभ को धारक का नॉमिनी पूरी राशि निकलकर या फिर एन्युटी के तौर पर ले सकता है। 
    • इस प्लान मे आपको ३० दिन का ग्रेस समय मिलता है जिसमे आपको प्रीमियम को भरना होता है। 
    • 15 दिन का लुक अप समय भी शामिल अगर आपको पालिसी पसंद नहीं आयी तो उसे वापिस कर सकते है ऐसे समय आपको प्रीमियम की राशि वापस की जाएगी। 
    • आप इस प्लान मे टर्म राइडर का विकल्प जोड़ सकते है। 

    कैसे काम करता है SBI सरल लाइफ पेंशन प्लान :(How  SBI Saral Life Pension Plan Work )

    • इस प्लान मे आपको प्लान के टेन्योर तक प्रीमियम का भुगतान करना होता है आप एकमुश्त भी भुगतान कर सकते है। 
    • उसके बाद पालिसी मचोर होने के समय आप कुछ राशि को निकल सकते है। 
    • और बाकी बची राशि का आपको एन्युटी प्लान खरीदना होगा। 
    • आप बिमा कंपनी के सहायता से ऐसे बोहोत सारे एन्युटी प्लान के विकल्प देख सकते है और सबसे अच्छा एन्युटी प्लान चुन सकते है। 

    SBI सरल लाइफ पेंशन प्लान मचोरिटी लाभ :(Maturity Benifits  SBI Saral Life Pension Plan)

    • आपका प्लान मचोर होने के बाद आपको प्लान की राशि ,प्रत्यावर्ती बोनस और टर्मिनल बोनस की राशि मिल जाती है। 
    • आप इस जमा राशि को मचोरिटी समय आप इसमे 1/3 rd राशि को निकल कर बाकि की राशि का एन्युटी प्लान खरीद सकते है। 
    • इसका मतलब अगर आपके मचोरिटी समय की कुल राशि १ लाख है तो आप 25 हजार निकल सकते है और बाकि के 75   हजार का एन्युटी प्लान खरीद सकते है। 
    • अगर आप चाहे तो पुरे १ लाख का एन्युटी प्लान  भी खरीद सकते है। 
    • इसके आलावा SBI आपको एक और विकल्प देता है जिसमे आप पूरी मचोरिटी राशि से एक सिंगल प्रीमियम पेंशन प्लान भी खरीद सकते है। 
    • लेकिन अगर आपको पालिसी और आगे जारी रखने है तो आप प्रीमियम को जारी रख के पालिसी को आगे बढ़ा सकते है इसके लिए आपकी उम्र 55 से कम होना जरुरी है जिससे आप ७० साल तक पालिसी को बढ़ा सकते है। 

    SBI सरल पेंशन प्लान लेना चाहिए या नहीं ?(Should You Invest )

    • SBI सरल लाइफ पेंशन एक अच्छा निवेश विकल्प है लेकिन NPS और PPF जैसे निवेश विकल्प से आप इससे ज्यादा रिटर्न निकल सकते है। 
    • ये बात आपके ऊपर निर्भर करती  है की आप नियमित पेंशन पाना चाहते है या सिर्फ रिटायरमेंट के लिए पैसे इकट्ठा करना चाहते है। 
    • आप अलग अलग तरह से निवेश करके बाद मे भी एन्युटी प्लान खरीद सकते है। 
    • इस प्लान की एक खासियत है की आप रिटायरमेंट प्लानिंग निवेश के साथ खुद का जीवन बिमा भी निकल सकते है अगर आप बिमा भी करना चाहते है तो मुझे लगता है यह विकल्प अच्छा है। लेकिन सिर्फ निवेश तो आपको इससे अच्छे निवेश विकल्प मिलेंगे। 

    टिप्पणी पोस्ट करें

    0 टिप्पणियां