-->

लॉक डाउन मे UPI के मुकाबले RTGS पर रहा लोगो का जोर UPI व्यवहारों मे दिखी कमी

Last Updated :11:12 AM 

पीटीआई :नई दिल्ली : देश मे चल रहे है लॉक डाउन का असर लोगो के भुगतान प्रणाली पर भी दिखाई दे रहा है। RBI ने इस संकट के समय डिजिटल बैंकिंग का ज्यादा इस्तेमाल करने को कहा है। वही पीटीआई के अनुसार मार्च महीने मे UPI के जरिये भुगतान मे कमी आयी है इसके बदले RTGS का इस्तेमाल बढ़ता हुआ दिखाई दे रहा है।

 UPI जो की एक यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस है जिसे भारतीय भुगतान नियम की और से विकसित किया गया है। लांच करने के बाद सबसे लोकप्रिय और सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला प्लेटफार्म माना जाता है। आप इससे तत्काल पैसे ट्रांसफर कर सकते है। 

पीटीआई ने इस बारे मे आगे कहा की मार्च मे UPI लेनदेदन की संख्या 124.68 करोड़ जबकि पिछले महीने फरवरी मे 132. 57 करोड़ थी। 
UPI लेनदेन का मूल्य भी 2.23 करोड़ से घटकर 2 .06 करोड़ पर आ गया है। 

लेकिन इससे पहले की बात करे तो पिछले कुछ महीनो से UPI लेनदेन काफी बढ़ रहे है। इसका कारन मोबाइल UPI पेमेंट एप्लीकेशन की माधयम से काफी आसान हो गया है। सिर्फ कॉंटॅक्ट नंबर के जरिये आप पैसे भेज सकते है। 

भाषा समाचार की माने तो इसका मुख्या कारन देश का लॉक डाउन है हलाकि ताज़ा हाल अप्रैल महीने के बाद पता चल सकता है। IMPS के लेनदेन मे भी काफी कमी दिखाई दे रही है। लॉक डाउन के कारन लोगो को नकदी कम पद रही है ऐसे मे कारोबार भी बंद है यही कारन UPI लेनदेन मे कमी का हो सकता है। 

लेकिन इसके उपरोध RBI के मुताबिक RTGS से लेनदेन मे 34 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। पिछले एक महीने मे ये आंकड़ा काफी बड़ा लगता है। 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां