-->

रिलायंस जिओ मे तीसरा बड़ा निवेश अब अमेरिकी विस्टा इक्विटी ने खरीदी 2.3 फीसदी हिस्सेदारी 11,367 करोड़ का हुआ डील

Last Updated :08:51 AM 

मुंबई :रिलायंस जिओ मे अमेरिकी निवेश बढ़ता जा रहा है। इन 2 महीने के भीतर रिलायंस जिओ की ये तीसरी बड़ी डील है /रिलायंस जिओ ने अपने आधिकारिक प्रेस नोट रिलीज़ मे कहा की अमेरिकी कंपनी Vista Equity Partners ने रिलायंस जिओ की 2.3 फीसदी की हिस्सेदारी खरीदी है। जब की डील 11,367 करोड़ रूपया का हुआ। प्रेस नोट मे आगे कहा गया की यह डील जिओ प्लॅटफॉरम पर 4.91 करोड़ के कीमत पर होगा। जिसकी एंटरप्राइज वैल्यू 5.16 लाख करोड़ होगी। फेसबुक के डील के मुकाबले यह निवेश 12.5 फीसदी प्रीमियम पर हुआ है। 

टेक्नोलॉजी मे निवेश करती है विस्टा इक्विटी पार्टनर्स कंपनी :

  • आपको बता दे की विस्टा इक्विटी नाम की ये अमेरिकी कंपनी विशेष तौर पर टेक्नोलॉजीज बिज़नेस पर निवेश करती है। 
  • रिलायंस जिओ मे इन 2 महीने मे फेसबुक के बाद तीसरा सबसे बड़ा निवेश माना जा रहा है। 
  • जिसमे सबसे पहले फेसबुक ने 9.99 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी उसके बाद सिल्वर लेक फर्म ने 1.55 फीसदी और अब विस्टा इक्विटी ने 2.3 फीसदी की हिस्सेदारी खरीदी है। 
  • इन तीनो निवेश के साथ रिलायंस जिओ ने कुल 60,596,37 करोड़ रुपये का निवश जुटाया है। 

विस्टा इक्विटी एक तकनिकी बिवेशक कंपनी :

  • विस्टा इक्विटी स्टार्ट उप वाले टेक्नोलॉजी कम्पनीओ का रिकॉर्ड देखकर उनमे निवेश करती है। 
  • विस्टा ऐसी कंपनी देखती है जिससे सॉफ्टवेयर और प्लेटफार्म डेवलप्मेंट काफी अच्छा हो यही उम्मीद उन्होंने जिओ से की है। 
  • उन्हें लगता है की किसी भी हालत मे जिओ एक बड़ी तकनिकी कंपनी के रूप मे उभरेगा। 
  • हलाकि विस्टा का भारत मे यह पहला ही निवेश है। 

रिलायंस जिओ सिर्फ 4 सालो मे बानी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी 

  • रिलायंस जिओ के आने के बाद भारत मे ईन्टएरनेट यूजर बढे है और डिजिटल तकनीक भी काफी बढ़ी। 
  • रिलायंस जिओ अलग अलग इनोवेशन के जरिये डिजिटल ट्रेड को आगे बढ़ा रही है। 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां