-->

लॉक डाउन के बाद इन कारणों से घर खरीदना होगा महंगा जानिए क्या करना सही होगा

Last Updated :07:40 PM 

मुंबई :पूरी दुनिया मे कोरोना महामारी फैल गयी है इसी कारन लॉज डाउन को भी बढ़ाया जा रहा है। इस दौर मे वैसे तो हर  आसान चीज मुशील हो गई है। ऐसे मे अगर आप घर खरीदने की सोच रहे है तो जरा रुकिए और इसे पढ़िए और जानिए किन करने से लॉक डाउन के बाद घर खरीदना आसान नहीं होगा। हलाकि मुसीबते अभी ख़तम भी नहीं हुई और इससे ज्यादा भी बढ़ सकती है। लॉक डाउन के बाद घर खरीदार पर और रियल एस्टेट पर काफी असर पड़ेगा जो की कम से कम 1 साल के लिए रहने के आसार है। इसलिए नया घर खरीदना महंगा भी पड़ सकता है। 

लॉक डाउन के बाद घर खरीदना इन कारणों से नहीं होगा आसान :

  • लॉक डाउन के कारन देश के सभी कारोबार बंद है और इसमे निर्माण और रियल एस्टेट क्षेत्र भी है। 
  • इस कारन देश मे बड़े बड़े निर्माण कार्य बिल्डिंग प्रोजेक्ट भी बंद है। 
  • कोरोना के खतरे के कारन मजदुर बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन के लिए मजदुर मिलना अबा आसान नहीं रहा है। 
  • लगभग 80 फीसदी से ज्यादा मजदुर शहर छोड़कर अपने गाव जा रहे है जा चुके है। 
  • इसके कारन प्रोजेक्ट को समय पर पूरा करना बिल्डर्स के लिए चुनौती होगी। 
  • लॉक डाउन के कारन लोगो की इनकम भी कम हो गयी है इसके कारन नया घर इतना आसान नहीं रहेगा। 
  • अगर आपने घर बुक किया है और लोन लिया है तो लोन का EMI भरना भी कठिन जा सकता यही। 
  • हलाकि RBI ने 6 महीने के लोन EMI मोरोटोरियम का विकल्प दिया है लेकिन इसके बाद आपको 6 महीने के अतरिक्त ब्याज के साथ EMI भरना पड़ेगा। 
  • अगर आपने कई प्रॉपर्टी बुक की है जिसका काम अभी रुक गया है तो आपको कम से कम और 6 महीने का इंतजार करना पड़ सकता है। 
  • इस समय रियल एस्टेट पर जो असर पड़ रहा है हो सकता है लॉक डाउन के बाद नए घरो की कीमते बढ़ सकती है। 

सरकार ने किये है राहत के उपाय :

  • रियल एस्टेट को संजीवनी देने के लिए और घर खरीदने के लिए बढावा देने के लिए भारत सरकार ने रेजिस्ट्रेड प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए 6 महीने की राहत दी है। 
  • इसके लिए आवेदन करने की जरुरत नहीं 25 मई तक ख़तम होने वाले सभी रेजिस्ट्रेड प्रोजेक्ट को यह सुविधा मिलेगी। 
  • RBI ने हाल है मे रेपो रेट को कम किया है जिससे होम लोन की EMI कम होने मे ,मदत होगी अगर आपने लोन लिया है तो EMI कम होने से आपको राहत मिलेगी। 
  • इसके आलावा लोन EMI भरने के लिए 6 महीने का मोरोटोरीरम भी ले सकते है जिससे आपको नगदी की कमी होने पर EMI से राहत मिलेगी। 
  • भारत सरकार ने प्रधान मंत्री आवास योजना के द्वारा मिलने वाली सब्सिडी योजना को भी 31 मार्च 2021 तक बढ़ाया है। 
  • इस सब्सिडी के मदत से आपको लोन मे मदत मिलेगी और नया घर खरीदना आसान हो जायेगा। 
अगर आप लॉक डाउन के बाद नया घर खरीदना चाहते है तो आपको इन मुशकिलो का सामना करना पड़ेगा। हलाकि भरत सरकार राहत के लिए जरुरी उपाए कर रही है। 6 महीने बाद घरो के रेट्स मे कमी भी आ सकती है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां