-->

ESIC की तरफ से फिर बढ़ाई अंशदान की तारीख सभी कर्मचारी समेत कम्पनीओ होगा फायदा

Last Updated :05:09 PM 

मुंबई ऐसी:ESIC की तरफ से कम्पनीओ को एकबार फिर से ESI योगदान की सिमा को बढाकर राहत देने का काम किया है। लॉक डाउन के बजह से सभी कम्पनीओ का कारोबार बंद है ऐसे मे इनकम के सारे रस्ते बंद है। इसके कारन सभी कम्पनिया आर्थिक बोझ को झेल रही है। सर्कार की तरफ से इस स्तिथि मे रहत की हर संभव कोशिश को आजमाया जा रहा है। इसी बात को ध्यान मे रखते हुए ESIC ने भी फरवरी और मार्च महीने के अंशदान की समय सिमा को बढाकर 15 मई कर दिया है। इससे पहले समय सिमा 15 अप्रैल थी। जिस तरह से लॉक डाउन आगे जा रहा है ये समय सिमा और बढ़ने की सम्भावनाये बढ़ रही है। 

ESIC ने आधिकारिक ट्वीट के जरिये दी जानकारी :

  • ESIC की तरफ से इस बारे मे आधिकारिक ट्वीट से इस बात की जानकारी दे दी गयी है। 
  • इसमे इस बात की जानकारी दी गयी है है की 15 महीने के समय तक अंशदान करने वाले कंपनी को किसी भी प्रकार का कोई अतिरक्त फाइन शुल्क नहीं देना पड़ेगा। 
  • फिलहाल जिस तरह से लॉक डाउन आगे बढ़ रहा है इस सिमित तारीख का भी आगे बढ़ना तय लगता है 
  • . हलाकि अगर कम्पनीओ को काम शुरू करने की मंजूरी मिलती है तो हालत बदल सकते है। 
  • ESIC कंपनी मे काम करने वाले कर्मचारी को स्वस्थ बिमा प्रदान करती है। 

ESIC कोरोना से संकट से लड़ने मे दे रहा है होने योगदान :

  • ESIC इन सभी सेवाओ के आलावा कोरोना संकट मे लड़ने के लिए अपना योगदान बखूभी निभा रहा है। 
  • देश के सभी ESIC अस्पतालों मे आप बिना किसी शुल्क के कोरोना से इलाज करवा सकते है। 
  • इसके आलावा इस मुसीबत के घडी मे आप ESIC IP धारक निजी मेडिकल मे जाकर भी सस्ते मे दवाइया खरीद सकते है। 
  • देश के सभी अस्पतालों मे कोरोना इलाज के लिए कुछ बेड को अलग से भी रक्खा गया है। 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां