-->

20 लाख करोड़ पैकेज आज हुआ चौथे किश्त का एलान जानिए आज किसे क्या मिला

Last Updated :06:08 PM 

नई दिल्ली :20 लाख करोड़ के रहत पैकेज के तहत आज वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने चौथे किश्त का एलान किया इस दौरान उन्होंने 8 बड़े एलान ;किये और विस्तार से जानकारी दी उन्होंने पावर सेक्टर समेत कोल् और एविशन के लिए कुछ बड़े एलान किये। भारत के अवकाश संशोधन के क्षेत्र के लिए भी आज एलान किया गया है इस दौरान वित्त मंत्री जी ने कहा की आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए रोजगार को बढ़ाना काफी अहम् है इसलिए हमारा लक्ष्य रोजगार को बढ़ाना है। इसके लिए देश के ब्रांड को आगे  लाने की भी कोशिश की जा रही है जिक्से लिए मेक इन इंडिया पर ध्यम दिया जायेगा। इसके लिए निर्यात को बढ़ावा दिया जायेगा। 

20 लाख करोड़ पैकेज मे आज हुए ये बड़े एलान :

  • आज FDI पर कुछ एलान हुए विदेशो कंपनियों को भारत लाने के लिए एम्पॉवर्ड ग्रुप का गठन किया जायेगा इसके आलावा हर एक मंत्रालय मे एक स्वतंत्र सेल बनेगा जो राज्यों और FDI निवेशकको को जोड़ेगा और बातचीत करेगा। 
  • इसके आलावा हर राज्य की निवेश के लिए आकर्षित योजवानो के आधार पर रैंकिंग बनाई जाएगी जिससे देश मे विदेश के निवेश को बढ़े जायेगा। 
  • मिनरल सेक्टर मे निजी निवेश को बढ़ाया जायेगा। 
  • मिनरल सेक्टर को रिफार्म किया जायेगा विकास और रोजगार को बढ़ाया जा सके इसमे स्टेट ऑफ़ आर्ट तकनीक का इस्तेमाल किया जायेगा। 
  • सोशल इंफ्रास्ट्रक्टर मे निवेश के बदलाव का एलान किया गया जिसके लिए 8100 करोड़ का प्रावधान किया गया है। 
  • इसमे 30 फीसदी केंद्र सरकार और 30 फीसदी राज्य सरकार की फंडिंग होगी। 
  • ISRO मे अब निजी निजी क्षेत्र से निवेश किया जा सकेगा प्राइवेट सेक्टर इसरो के सुविधावो का लाभ भी ले सकेंगे। 
  • इस बारे मे वित्त मंत्री ने कहा की हम चाहते है की अवकाश संशोधन के क्षेत्र मे निजी क्षेत्र भी आगे बढे। 
  • PPP के जरिये 6 नए एयरपोर्ट की नीलामी की जाएगी। जिसकी प्रक्रिया जल्द से जल्द शुरू की जाएगी 
  • इसके अलाव एयरलाइन्स के लागत को कम करने की कोशिश रहेगी। 
  • इंडियन एयर स्पेस का इस्तेमाल को बढाया जायेगा जो की फिलहाल 60 फीसदी है। इस्तेमाल के रोक को हटा दिया जायेगा। 
  • एयरक्राफ्ट रिपेयर हब बनाने पर जल्द ही काम होगा। इसमे MRO सुविधा को भी शुरू किया जा सकेगा।
  • भारत सरकार  ने कोल् सेक्टर के रिफार्म की योजना बनाई है इसमे कमर्शियल कोल् माइनिंग को बढ़ावा देने का प्रस्ताव है। 
  • कोल् पर भारत सरकार के मोनोपोली को हटा दिया जायेगा कोल् को गैस मे कन्वर्ट करने पर मिलेगा बोनस। 
  • कोल् रिफार्म के लिए रेवेनुए शेयरिंग निति अपने जाएगी। 
  • कोल् इंफ़्रा और कोल् माइनिंग के लिए 50 हजार करोड़ रुपये खर्च किये जायेंगे। 
  • इसके तहत 50 नए कोल् ब्लॉक शामिल किये जायेंगे। 
  • पावर सेक्टर रिफार्म के लिए बिजली कम्पनीओ का नुकसान पर उसका नुकसान उपभोक्ता पर नहीं डाला जायेगा। 
  • बिना बताई बिजली काटने पर बिजली कंपनी को जुरमाना भरना पड़ेगा। 
  • पावर सेक्टर के रिफार्म के जरिये बिजली उत्पादन बढ़ाया जायेगा केंद्रशासित प्रदेशो मे डिस्कॉम का निजीकरण किया जायेगा जिससे बिजली कम्पनियो मे स्पर्धा बढ़ेगी। 
  • डिफेन्स के क्षेत्र मे FDI को बढाकर 74 फीसदी किया जायेगा। 
  • इसके आलावा डिफेन्स सेक्टर को रिफार्म के जरिये मेक इन इंडिया पर ध्यान दिया जायेगा। 
  • इसमे डिफेन्स प्रणाली और उपकरण को देश मे बनाने के कोशिश की जाएगी इसमे कुछ हथिराओ को आयत करने की रोक लगेगी हलाकि जरुरी हथियार की खरदी सरकार करेगी। 
  • इससे विदेशो आयत को कम किया जा सकेगा और इस क्षेत्र मे भी भारत आत्मा निर्भर बन सकेगा। 
वित्त मंत्री जी ने इससे पहले 3 किश्तों का एलान किया था 20 लाख करोड़ के पैकेज मे आज की ये चौथी किश्त थी कल आखरी और पाचवि किश्त की जानकारी वित्त मंत्री जी देंगे। 

  • बुधवार को पहली किश्त का एलान किया गया जिसमे MSME और रियल एस्टेट पर ध्यान दिया था इसके आलावा बिजली कंपनिवो को 90 हजार करोड़ के पैकेज का एलान किया था। 
  • वही दूसरी किश्त मे प्रवासी मजदूरी को रहत देने का एलान लिया था स्टेट वेंडर्स के लिए एलान हुए थे। 
  • वही तीसरी किश्त मे किसानो के तरफ ध्यान दिया गया था इसमे किसानो के लिए कमोडिटी एक्ट मे बदलाव का एलान किया गया मस्त्य पालन और मद्युमक्खि पालन जैसे उद्योगों के लिए वित्त सहायता का भी एलान किया गया था।सरकार ने किसानो के आमदनी बढ़ाने के लिए उनके उपज के दाम उनके हाथ मे देने का फैसला किया है। 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां