-->

PPF और सेविंग अकाउंट के ब्याज पर देना पड़ सकता है GST AAR ने कहा GST पंजीकरण सिमा मे जल्द होंगे शामिल

Last Updated :08:12 AM 

मुंबई :GST पंजीकरण सिमा के लिए सिमा का आकलन करते समय PPF बैंक खाते और परिवार या फिर दोस्तों को दिए गए कर्ज पर मिलने वाले ब्याज को GST मे शामिल पकिया जायेगा। इस बारे मे अधिक जानकारी एडवांस रूलिंग अथॉरिटी ने दी उन्होंने आगे कहा की GST कानून के तहत 20 लाख से ज्यादा कारोबार करने वाले कंपनी और व्यक्तिवो को GST पंजीकरण करना अनिवार्य होगा। 

इस बारे मे एक व्यक्ति ने किया था AAR मे आवेदन :

  • इसी मामले मे एक कारोबार के व्यक्ति ने AAR मे आवेदन देकर इस बात को जानना चाहा था। 
  • उनका सवाल था की PPF और पसिवर के सदयासो को दिए गए कर्ज पर मिलने वाले ब्याज पर GST कानून के तहत पंजीकरण के तहत 20 लाख के सिमा का आकंलन से विचार करना चाहिए या नहीं। 
  • उस आदमी ने उसकी 2018 19 की कल इनकम 20.12 लाख बताई थी इसमे 9.84 लाख किराये की इनके और बाकि PPF और दोस्तों परिवार को दिए गए कर्ज पर लोन का ब्याज से इनकम मिली थी। 
  • इसके बाद AAR ने इस प्रश्न का उत्तर देते हुए कहा की ब्याज की इनकम को GST पंजीकरण सिमा मे शामिल की जाएगी। 

20 लाख से ज्यादा इनकम होने पर GST पंजीकरण अनिवार्य :

  • GST के लिए आदमी या कंपनी की कुल इनकम 20 लाख से ज्यादा होने पर अब GST पंजीकरण करना अनिवार्य हो जायेगा। 
  • इसके लिए किराया और दोस्तों के कर्जो को टैक्स योग्य आपूर्ति के साथ जोड़ना होगा। 
  • इस निर्णय से व्यक्ति गाठ इनकम और कारोबार की इनकम अलग नहीं मानी जा रही है। 
  • इसके कारन अब रिटायरमेंट वाले लोगो को भी GST पंजीकरण करनाप पड़ सकता है। 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां