-->

इमरजेंसी क्रेडिट फैसिलिटी सिर्फ MSME कारोबार के लिए नहीं बल्कि सभी कंपनियों के लिए है :वित्त मंत्री

Last Updated :09:50 PM 

मुंबई :वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने कहा की इमरजेंसी क्रेडिट लाइन फैसिलिटी सिर्फ MSME कारोबार के लिए सिमित नहीं बल्कि सभी कंपनी वो के लिए है। कोई भी कंपनी इस योजना के तहत लोन ले सकती है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने FICCI मे बात करते इस बात की जानकारी दी। वित्त मंत्री जी ने सभी कम्पनीओ को आस्वश्त किया की भारतीय इकॉनमी को सहारा देने के लिए सभी जरुरी उपाय किये जायेंगे हम इस मुसीबत के समय आपको मदत करने के लिए प्रतिबद्ध है। 

बाजार मे पर्यात्प नगदी उपलब्ध :

  • नगदी की कमी के बारे मे सवाल पूछे जाने पर वित्त मंत्री जी ने कहा की हमें नगदी संकट को अच्छी तरह से सुलझा दिया है नगदी की उप्लाभ्दा के लिए अब कोई परेशानी नहीं है। 
  • अगर इसके बाद भी नगदी की कमी की कोई समस्या आती है तो उसे भी समय पर समाधान किया जायेगा। 
  • ;लेकिन इस समय बाजार मे पर्याप्त नगदीउप्लाभ्दा  है। 

15 फीसदी कॉर्पोरेट टैक्स का फायदा  लेने का समय बढ़ सकता है। 

  • वितता मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने कहा की कोरोना महामारी को देखते हुए 15 फीसदी कॉर्पोरेट टैक्स लाभ की समय सिमा को बढ़ाया जा सकता है। (इस समय इस पर सरकार विचार कर रही है )
  • भारत सरकार ने निजी निवेश को बढ़ने के लिए घटाया था कॉर्पोरेट टैक्स दर। 
  • अगर समय सीमा को बढ़ाया जाता है तो 31 मार्च 2023 तक इसी दर से कॉर्पोरेट टैक्स लाभ मिलता रहेगा। 

GST मे कटौती का निर्णय कौंसिल करेगी :

  • GST दरों मे कटौती पर बात करते हुए वित्त मंत्री जी ने कहा की GST दर मे कटौती का मामला कौंसिल के पास जायेगा इस समय GST कौंसिल राजस्व पर ध्यान दे रही है इसके बाद किसी भी क्षेत्र मे GST दर घटाने का निर्णय परिषद् को करना है। 
  • इसके आलावा वित्त मंत्री ही ने सभी सरकारी विभागों से बकाया निपटान करने का भी निर्देश दिया। 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां