-->

PPF NSC सुकन्या समृद्धि योजना जैसे योजनाओ मे करना चाहते है निवेश तो अभी ही कर ले शुरू अगले महीने कम हो सकती है ब्याजदर फिर पड़ेगा पछताना

Last Updated :06:43 PM

मुंबई :कोरोना महामारी के समय शेयर बाजार मे कब क्या होगा कोई नहीं बता सकते है इसी के कारन शेयर बाजार और म्यूच्यूअल फण्ड मे पैसा लगाने से लोग दर रहे है और सुरक्षित निवेश की और  बढ़ रहे है। सुरक्षित निवेश के लिए छोटी बचत योजनाए काफी लोकप्रिय है इसमे लोग PPF निवेश ,FD खाता ,सुकन्या समृद्धि योजना फिट पोस्ट ऑफिस की योजना मे पैसे लगना चाहते है। जिसमे निवेश भी सुरक्षित होता है और रेटेन कीगारंटी भी मिलती है। लेकिन अगर आप इस योजना मे निवेश करना चाहते है  तो आपको इसी महीने मे निवेश करना चाहिए क्यों की अगले महीने से इन सभी योजनाओ के ब्याजदर गिराने के आसार है।

अगले महीने इन योजनाओ के ब्याजदर को किया जा सकता है कम :

  • आपको बता दे की PPF NSC SSY जैसे योजनाओ के ब्याजदर मे अगले महीने से कमी आ सकती है। 
  • इसका मुख्या RBI ने बाजार मे नगदी बढ़ाने के हेतु रेपो रेट को घटाया था हाल का रेपो दर 4 फीसदी है। 
  • इसके कारन एक तरफ लोन की ब्याजदरों मे कमी आयी है। 
  • लेकिन उसी समय बैंक FD की ब्याजदर कम हो गयी है। बॉन्ड यील्ड भी गिरता जा रहा है। 
  • इसका मतलब है की अगले महीने मे इन सभी योजनाओ के ब्याजदर मे गिरावट हो सकती है। 

अप्रैल मे भी कम हुए थे ब्याज दर :

  • अप्रैल के महीने मे केंद्र सरकार ने पहले तिमाही के ब्याजदर की जानकारी दी थी जिसमे लगभग सभी तरह के योजनाओ के ब्याजदर मे कटौती हुई थी। 
  • इसमे PPF निवेश पर ब्याजदर 7.9 फीसदी थी जो की अब 7.1 फीसदी हो गयी है। 
  • NSC योजना मे पुराणी ब्याजदर 7.9 फीसदी थी जो की अब 6 .8 फीसदी हो गयी है। 
  • सुकन्या समृद्धि योजना मे 8.4 फीसदी कम होकर 6.9 फीसदी हो गया है। 
  • वही वरिष्ठ नागरिक योजना मे ब्याजदर 7.4 फीसदी हो गया है। 
  • बैंक FD पर भी हर बैंक की ब्याजदर अब बचत खाते के ब्याजदर जैसी लगने लगी है। 

अभी करे निवेश इसी ब्याजदर से मिलेगा लाभ :

  • अगर आप इन मे से किसी योजना मे निवेश करने का मन बना रहे है तो आपको इस महीने के पहले निवेश को शुर करना होगा। 
  • आपको बता दे की सरकार हर तिमाही मे इन योजनाओ के ब्याजदरों की समीक्षा करके नए ब्याजदर लागु करती है। 
  • इसके मुताबिक अगले महीने से नए ब्याजदर लागु हो सकते है जो की इससे कम होने की आंशका है। 
  • लेकिन अगर आप इसी महीने किसी भी योजना मे निवेश करते है तो आपको अभी के ब्याजदर से ही योजना का समय पूरी होने तक ब्याज मिलेगा। 
  • मतलब कम होने ब्याजदर का आपके निवेश पर कुछ भी असर नहीं पड़ेगा। 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां