-->

सरकार ने 2018-19 के लिए ITR रिटर्न भरने की समयसीमा 30 सितम्बर तक बढ़ाई, इस तरह से ऑनलाइन कर सकते है फाइल ये है पूरी प्रोसेस

Last Updated :01:50 PM 

मुंबई :CBDT कोरोना महामारी से राहत देने हेतु साल 2018-19 के लिए ITR रिटर्न फाइल करने के समयसीमा को तीसरी बार आगे बढ़ाया है इस बार अब 30 सितम्बर तक का समय दिया गया है। वही 2019-20 के लिए ITR भरने की आखिरी तारीख 30 नवंबर की गयी है। समय सिमा बढ़ाने के बाद अब टैक्स भरने वालो को ITRरिटर्न फाइल करने के लिए अतिरक्त समय मिलेगा हलाकि CBDT ने आगे कहा की ITR फाइल करने के लिए आखिरी तारीख की राह ना देखते हुए अभी ITR फाइल कर दे इसके लिए CBDT ने ऑनलाइन रिटर्न फाइल करने की पूरी प्रोसेस को भी शेयर किया है।

ऑनलाइन ITR फाइल करने के लिए जरुरी दस्तावेज :


  • ITR रिटर्न ऑनलाइन फाइल करने के लिए आपको जरुरी दस्तावेजों की पास रखना है। 
  • इसमे पैन कार्ड ,आधार कार्ड,बैंक अकाउंट नंबर आदि दस्तावेज तैयार रखने है। 
  • इसके आलावा इन्वेस्टमेंट सर्टिफिकेट ,फॉर्म 16 ,फॉर्म 26 AS भी तैयार रखने है। 
  • इसी समय ITR रिटर्न के लिए सरकार टैक्स पयेर्स के आय के हिसाब से 7 तरह के फॉर्म तैयार किये है। 
  • आपको आपके इनकम के अनुसार ITR फॉर्म चुनना है जैसे 50 लाख तक के इनकम वाले लोगो को ITR फॉर्म 1 भरना पड़ता है। 

ऑनलाइन ITR रिटर्न फाइल करने की प्रोसेस :

  • सभी दस्तावेजो को तैयार रखने के बाद अब आओ ITR फॉर्म ऑनलाइन भर सकते है। 
  • हलाकि इस बात का ध्यान रखना है की आप ITR फॉर्म 1 और ITR फॉर्म 4 ही ऑनलाइन भर सकते है बाकि ITR फॉर्म सिर्फ ऑफलाइन भरे जा सकते है। 
  • प्रोसेस शुरू करने के लिए सबसे पहले आपको इनकम टैक्स इंडिया की वेबसाइट पर जाना है। 
  • उसके बाद आपका यूजर आय डी और पासवर्ड जन्मतिथि डालनी है आगे कॅप्टचा कोड डालकर लोग इन करना है। 
  • अगली स्टेप मे आपको इ फाइल तब पर क्लिक करना है और इनकम टैक्स रिटर्न का विकल्प चुनना है। 
  • इसके बाद आपको ITR फॉर्म चुनना है ,आकलन वर्ष,फाइलिंग का प्रकार चुनना है और उसके बाद Prepair And Submit Online का विकल्प चुनकर कंटिन्यू कर देना है। 
  • इसके बाद आपका ITR फॉर्म ऑनलाइन ओपन हो जायेगा आपको इस ITR फॉर्म ऑनलाइन ही भरना है। 
  • इसके बाद आखिरी टैक्स पेड एंड वेरिफिकेशन के जरिये आप ITR रिटर्न को इ वेरिफाई कर सकते है इसको आपको ITR फाइल करने के बाद 120 दिनों के अंदर करना पड़ता है। 
  • वेरिफिकेशन आप बाद मे भी कर सकते है और फॉर्म को सब्मिट कर सकते है। 

ITR फाइल करने के बाद वेरिफिकेशन की प्रोसेस :

  • ITR फाइल करने के बाद 120 दिनों के अंदर ITR इ वेरिफिकेशन पूरा करना होता है जिसे 4 तरीके से पूरा किया जा सकता है। 
  • पहले आप आपके ITR को आधार कार्ड OTP के जरिये इ वेरिफाई कर सकते है। 
  • आप नेट बैंकिंग के जरिये इ फाइलिंग पर लोग इन करके भी वेरिफिकेशन पूरा कर सकते है। 
  • इसके आलावा EVC एलेट्रोनिक वेरिफिकेशन सिस्टम के जरिये भी वेरिफिकेशन किया जा सकता है। 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां