-->

टैक्स छूट पाने के लिए 31 जुलाई से पहले करना होगा निवेश यहाँ जाने पोस्ट ऑफिस की ये स्कीम टैक्स बचाने मे कैसी है लाभदायक

Last Updated :12:34 PM 

मुंबई :इनकम  टैक्स ने कोरोना महामारी से राहत देने के लिए टैक्स सेविंग निवेश के तारीख को आगे बढाकर 31 जुलाई कर दिया है। आपको बता दे की आप विभिन्न योजना मे निवेश के जरिये 80 C 80D  सेक्शन के तहत टैक्स छूट प्राप्त कर सकते है। लेकिन अगर आप 31 जुलाई के बाद निवेश करते है तो आपको इस साल के लिए टैक्स छूट का लाभ नहीं मिल सकता। इसलिए अगर आप  टैक्स बचाने के लिए किसी योजना मे निवेश करना चाहते है तो यही सही समय है। अगर टैक्स बचाने के लिए पोस्ट ऑफिस की स्कीम मे निवेश करने की सोच रहे है तो आपके लिए नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट टैक्स बचाने के साथ अच्छी रिटर्न देने मे मदत कर सकती है। 

पोस्ट ऑफिस की NSC नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट :

  • पोस्ट ऑफिस की राष्टीयबचत योजना एक सरकारी निवेस योजना है जो काफी सुरक्षित मानी जाती है। 
  • इस स्कीम की ख़ासिताय ये है की आप सिर्फ 100 रुपये से इस योजना मे निवेश की शुरवात कर सकते है। 
  • इस स्कीम मे आपको निवेश सर्टिफिकेट खरीदने होते है जो  100 ,500 ,2000 रुपये के  होते है इसे पोस्ट ऑफिस जारी करता है। 
  • आप इसमे कितना भी निवेश कर सकते है मतलब कितनी भी निवेश सर्टिफिकेट को खरीद सकते है। 
  • इस स्कीम मे कोई भी आदमी निवेश कर सकते है आप बच्चो के नाम पर भी निवेश  कर सकते है। 
  • आपको इस योजना मे 5 साल के लिए निवेश करना पड़ता है। 
  • NSC योजना मे आपको 6.8 फीसदी के दर से ब्याज मिलता है जो की हर साल कम्पाउंड इंट्रेस्ट के जरिये आपकेनिवेश को बढ़ता है। 
  • इस योजना का मचोरिटी समय 5 साल का है लेकिन आप 1 साल बाद निवेश राशि को निकाल भी सकते है। 
  • इस योजना मे 18 साल के कम उम्र के बच्चो का भी निवेश  किया जा सकता है इसके लिए बच्चो के नाम पर अभिभावक निवेश कर सकता है। 

नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट मे मिलने वाली टैक्स छूट :

  • आपको इस योजना मे निवेश की गयी सालाना 1  लाख 50 हजार की राशि पर टैक्स छूट मिलती है 
  • जो की सेक्शन 80 C के तहत दी जारी है लेकिन सालाना 1 लाख से ज्यादा राशि होने के बाद आपको उसके ऊपर टैक्स देना पड़ता है। 

मचोरिटी समय  मिलने वाली राशि :

  • अगर आप इस योजना मे अभी 10 हजार का निवेश कर देते। 
  • और 5 सालो के लिए हर साल आपको 6.8 फीसदी का ब्याज मिलेगा। 
  • जिसके अनुसार आपको 5 साल बाद मचोरिटी समय पर कुल 13890 रुपये वापिस दिए जायेंगे।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां