-->

CBIC और CBDT को के विलय की खबरों मे कोई तथ्य नहीं वितता मंत्री मंत्रालय ने दी सफाई

Last Updated :09:03 PM 

मुंबई :वित् मंत्रालय ने सोमवार को ट्विटर पर CBIC (केन्द्रय अप्रत्यक्ष कर एव सिमा शुल्क )और CBDT केंद्रीय प्रत्यक्ष कर )इन दोनों के विलय के खबरों मे कोई तथ्य नहीं ऐसा बताकर मामले मे सफाई दी है। वित्त मंत्रालय ने कहा की सरकार इस तरह के किसी भी प्रस्ताव पर विचार नहीं कर रही है.

TARC आयोग मे विलय की सिफारिश की गयी थी :

  • वित्त मंत्रालय ने इस बारे मे एक विस्तारित प्रेस नोट जारी किया है जिसमे कहा है की विलय की सिराइश TARC आयोग मे की गयी थी। 
  • इस TARC टैक्स एडमिनिस्ट्रेशन रिफॉर्म्स आयोग की अध्यक्षता परतशरथी शोम ने की थी। 

क्या है सफाई की बजह :

  • दरअसल कुछ दिन पहले कुछ मीडिया रिपोर्ट्स मे इन दोनों बोर्ड का विलय करने की खबर को दिया था। 
  • जिसमे बाद वित्त मंत्रालय ने इस इस प्रेस नोट के जरिये खबर गलत होने की जानकारी दी। 

सरकार ने नहीं स्वीकार की विलय की सिफारिश :

  • वित्त मंत्रालय ने स्पष्टीकरण मे कहा की सरकार इस तरह के किसी भी प्रस्ताव पर बिचार नहीं कर रही है। 
  • सरकार ने TARC की रिपोर्ट जांचने के बाद विलय के सिफारिश को अस्वीकार किया। 
  • दर असल सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ रेवेनुए एक्ट 1963 के तहत सरकार ने CBDT और CBIC का गठन किया था।

TARC आयोग ने की थी अलग अलग385 सिफारिशें :

  • TARC आयोग को इस लिए गठन किया था ताकि टैक्स पालिसी को वैश्विक स्तर जांचा जाए और उनको और बेहतर बनाया जाए। 
  • TARC ने अपने रिपोर्ट मे CBIC और CBDT के लिए कुल 385 सिफारिशें दी थी। 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां