-->

आईसीआईसीआई लोम्‍बार्ड और भारती अक्‍सा ने अपने गैर-जीवन बीमा कारोबारों को एकीकृत करने के लिए अंतिम करार पर हस्‍ताक्षर किया

 मुंबई, 22अगस्‍त, 2020: आईसीआईसीआई लोम्‍बार्ड जनरल इंश्‍योरेंस कंपनी लिमिटेड (“ICICI Lombard”) और भारती अक्‍सा जनरल इंश्‍योरेंस कंपनी लिमिटेड (“Bharti AXA”) के निदेशक मंडल ने आज अपनी-अपनी बैठकों में स्‍कीम ऑफ अरेंजमेंट के जरिए भारती अक्‍सा के गैर-जीवन बीमा कारोबार का आईसीआईसीआई लोम्‍बार्ड में डिमर्जर के लिए अंतिम करारों का अनुमोदन कर दिया।

 

स्‍वतंत्र मूल्‍यांकनकर्ताओं द्वारा परामर्शित शेयर एक्‍सचेंज अनुपात और आईसीआईसीआई लोम्‍बार्ड एवं भारती अक्‍सा के बोर्ड्स की स्‍वीकृति के आधार परभारती अक्‍सा के शेयरधारकों को आईसीआईसीआई लोम्‍बार्ड और भारती अक्‍सा के निदेशक मंडलों द्वारा स्‍कीम ऑफ अरेंजमेंट के अनुमोदन की तिथि को उनके द्वारा धारित भारती अक्‍सा के प्रत्‍येक 115 शेयर्स के बदले में आईसीआईसीआई लोम्‍बार्ड के 2 शेयर्स प्राप्‍त होंगे।

 

प्रस्तावित लेनदेन आईसीआईसीआई लोम्बार्ड के लिए गैर-जीवन बीमा क्षेत्र में अपने बाजार की अग्रणी स्थिति को मजबूत करने का एक सार्थक अवसर प्रदान करता हैजो तीसरा सबसे बड़ा गैर-जीवन बीमाकर्ता बन गया है। संयुक्त इकाई के पास प्रो-फॉर्म के आधार पर बाजार हिस्सेदारी 8.7% होगी। इस प्रस्तावित लेन-देन के माध्यम सेआईसीआईसीआई लोम्बार्ड भारती अक्सा की मौजूदा वितरण साझेदारी के साथ अपनी वितरण शक्ति को बढ़ाने में सक्षम होगा। संयुक्त इकाई को भारती इंटरप्रेन्योरविविध हितों के साथ भारत के प्रमुख व्यावसायिक समूहों में से एकऔर एक बड़े कुँए के साथ निरंतर साझेदारी से भी लाभ होगा।

 

प्रस्तावित लेन-देन से सार्थक राजस्व और परिचालन तालमेल के माध्यम से सभी हितधारकों के लिए मूल्य निर्माण होने की उम्मीद है। पॉलिसीधारकों को एक बढ़ाया उत्पाद सूट और गहरे ग्राहक संपर्क स्पर्श बिंदुओं से लाभ होने की उम्मीद है। संयुक्त व्यवसाय के कर्मचारियों को फ़ंक्शंस और भौगोलिक क्षेत्रों में अधिक से अधिक अवसरों के माध्यम से भी लाभ होगा।

 

प्रस्तावित लेन-देन का समापन विभिन्न शर्तों के अधीन है, जिसमें भारतीय नियामक और विकास प्राधिकरण, भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग, भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड, स्टॉक एक्सचेंज, भारतीय रिजर्व बैंक, एनसीएलटीऔर अनुमोदन से विनियामक अनुमोदन शामिल हैं। आईसीआईसीआई लोम्बार्ड और भारती अक्सा दोनों के शेयरधारकों के बीच। सभी अनुमोदन प्राप्त करने पर, जब यह योजना प्रभावी हो जाती है, तो गैर-जीवन बीमा व्यवसाय भारती अक्सा से आईसीआईसीआई लोम्बार्ड में गिर जाएगा।
 
घोषणा पर टिप्पणी करते हुए, श्री भार्गव दासगुप्ता, आईसीआईसीआई लोम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस के एमडी और सीईओ ने कहा, “यह आईसीआईसीआई लोम्बार्ड की यात्रा में एक ऐतिहासिक कदम है और हमें विश्वास है कि यह लेन-देन हमारे शेयरधारकों के लिए मूल्य वर्धक होगा। हम उन क्षमताओं और शक्तियों से उत्साहित हैं जो भारती अक्सा हमारे मताधिकार में जोड़ देंगी। कंपनी के पास एक मजबूत सांस्कृतिक फिट के साथ एक प्रतिभाशाली कर्मचारी आधार है, और हम उन्हें आईसीआईसीआईलोम्बार्ड परिवार में स्वागत करने के लिए तत्पर हैं। हम भारती अक्सा के पॉलिसीहोल्डर्स और सीमलेस बिजनेस निरंतरता और ग्राहक सेवा के उच्चतम मानकों को बनाए रखने के चैनल भागीदारों को आश्वस्त करना चाहते हैं।

 


भारती अक्सा जनरल इंश्योरेंससिड के चेयरमैन श्री राकेश भारती मित्तल ने कहा, “हमें खुशी है कि भारती और अक्‍सा के बीच साझेदारी घरेलू बीमा परिदृश्य में एक ठोस नींव रखने में सफल रही है। पिछले कुछ वर्षों मेंहमारे व्यवसाय ने निरंतर विकास का प्रदर्शन कियाउत्पादक भागीदारी को बढ़ावा दिया और वितरण के पदचिह्न में काफी वृद्धि की। हमें विश्वास है कि आईसीआईसीआई लोम्बार्ड के साथ हमारे व्यापार का प्रस्तावित समामेलन अधिक से अधिक व्यापार समन्वय लाएगा और सभी हितधारकों के लिए मूल्य पैदा करेगा।

 

ट्रांजेक्‍शन एडवायजर्स:

अर्न्स्ट एंड यंग एलएलपी (ईवाई) ने आईसीआईसीआई लोम्‍बार्ड के विशेष एमएंडए एडवायजर के रूप में काम किया।

 

एज़ेडबी एंड पार्टनर्सआईसीआईसीआई लोम्‍बार्ड के विधिक सलाहकार रहेसिरिल अमरचंदमंगलदासभारती के विधिक सलाहकार रहे और अक्‍सा के विधिक सलाहकारतलवार ठाकूर एंड एसोसिएट्स रहे।

 

बीडीओ वैल्‍यूएशन एडवायजरी एलएलपी और एमकेएसए एंड एसोसिएट्स ने आईसीआईसीआई लोम्‍बार्ड में भारती अक्‍सा के डिमर्जर के लिए शेयर एक्‍सचेंज रेशियो का परामर्श दिया। अर्न्स्ट एंड यंग मर्चेंट बैंकिंग सर्विसेज एलएलपी ने आईसीआईसीआई लोम्‍बार्ड को फेयरनेस ओपिनियन दिया।

 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां