-->

क्रेडिट गारंटी स्कीम का दायरा बढ़ा अब डॉक्टर ,वकील जैसे पेशेवर भी ले सकेंगे योजना के तहत बिना गारंटी लोन

मुंबई :सरकार ने 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज के तहत MSME कारोबार को राहत देने के लिए 3 लाख करोड़ का स्पेशल क्रेडिट गारंटी स्कीम का एलान किया था। अब इस योजना का दायरा बढ़ाते हुए डॉक्टर ,वकील जैसे पेशेवर को भी अपने कारोबार को आगे बढ़ाने के लिए बिना गारंटी लोन का लाभ मिलेगा। 


MSME के क्रेडिट गारंटी योजना का दायरा बढ़ा :

  • सरकार की तरफ से शनिवार को इस योजना का दायरा बढ़ाने की घोषणा की गयी है। 
  • इस एलान के मुताबिक अब डॉक्टर वकील और चार्टेड अकाउंटेंट जैसे पेशेवर को भी शामिल किया गया है। 
  • इसी समाय 50 हजार करोड़ के बकाया कर्ज वाले यूनिट भी इस योजना के तहत अब लोन ले सकेंगे। 
  • इससे पहले 25 करोड़ का बकाया कर्ज वाले कारोबार को लोन देने की योजना थी। 
  • MSME की नयी परिभाषा के अनुसार सालाना टर्नओवर सिमा को 100 करोड़ से बढाकर अब 250 करोड़ रुपये कर दी गयी है। 
  • जिसके चलते अब 250 करोड़ तक का सालाना कारोबार करने वाले कारोबार भी इस योजना का लाभ ले सकेंगे जो की पहले सिर्फ 100 करोड़ तक ही सिमित था। 

20 लाख करोड़ का आर्थिक पैकेज के तहत हुआ था एलान :

  • बता दे की कोरोना महामारी और लॉक डाउन से राहत देने के लिए सरकार ने 20 लाख करोड़ का आर्थिक पैकेज का एलान किया था। 
  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने इस पैकेज के जानकारी देते वक़्त MSME को 3 लाख करोड़ के क्रेडिट गारंटी योजना का एलान किया था जिसे बाद मे कैबिनेट ने भी मंजूरी दी थी। 

योजना के तहत अब तक 1.36 लाख करोड़ का लोन हुआ मंजूर :

  • इस योजना के लागू होने के बाद अब तक कुल 1.36 लाख करोड़ का लोन मंजूर किया गया है। 
  • इसमे कुल 87,227 करोड़ के लोन को मंजूरी के बाद दिया भी गया है,
  • इस योजना के तहत लोन लेने की का समय अक्टूबर 2020 तक का है। 
  • दायरा बढ़ने के बाद अब इसमे व्यावसायिक उद्देश्य से सेक्टर वकील जैसे पेशेवरों को दिए गए लोन को भी कवर किया जायेगा। 
  • जानकारी के मुताबिक दायरा बढ़ने से अब बड़ी कंपनी यो को भी इस योजना मे शामिल किया जायेगा। 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां