-->

EMI मोरोटोरियम मामला :केंद्र सरकार ने कोर्ट को दिया हलफनामा अब लोन धरकको नहीं देना होगा ब्याज पर ब्याज !!!

मुंबई:लोन पर अप्रैल से अगस्त तक मोरोटोरियम का लाभ उठाने वाले ग्राहकको को केंद्र सरकार ने अच्छी खबर दी है केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को एक हलफ नाम जारी किया है जिसके मुताबिक अब बैंक मोरोटोरियम पर लगने वाले चार्ज और ब्याज की वसूली नहीं करेंगे। इस हलफ नाम मे आगे कहा गया की मोरोटोरियम  अवधि मार्च से अगस्त के दौरान ब्याज पर ब्याज को माफ़ काने के लिए केंद्र सरकार तैयार है। हलाकि यह राहत 2 करोड़ रुपये तक के लोन पर दी जाएगी इस राहत मे हाउसिंग लोन ,एजुकेशन ,MSME ,कंस्यूमर दुरेबल ,ऑटो लोन ,क्रेडिट कार्ड इस प्रकार के लोन पर मिलेगी। 


इससे लोन धरकको को कैसे होगा फायदा :

  • केंद्र सरकार के हलफनामे के अनुसार मोरोटोरियम का लाभ ले रहे लोगो को अब ब्याज पर ब्याज नहीं देना पड़ेगा। 
  • इसका मतलब अगर आपने 6 महीने मोरोटोरियम लाभ चुना तो आपका EMI सिर्फ 3 महीने आगे बढ़ेगा और आपकी EMI भी पहले जैसी ही रहेगी। 
  • इसका मतलब आपकी बैंक आपसे इन 6 महीनो का अतरिक्त ब्याज या फिर उसका EMI नहीं वसूल पायेगी। 

सरकार खुद लेगी इस कर्जमाफी की जबाबदारी :

  • केंद्र सरकार की और से इस हलफनामे मे आगे कहा गया है की इस ब्याज पर ब्याजमाफी का पूरा भार सर्कार खुद लेगी। 
  • अगर सरकार इस भार को बैंको पर छोड़ देती तो बैंक पर कम से कम 6 हजार करोड़ का बोझ पड़ जाता और इसका देश के बैंकिंग प्रणाली पर भी बाकि पूरा असर पड़ सकता था। 

इससे पहले बैंको ने दिए थे ये विकल्प :

  • इस फैसले के पहले बैंको ने मोरोटोरियम समय मे बैंको ने लोन धरकको के सामने 3 विकल्प रक्खे थे। 
  • इसमे सबसे पहले यह विकल्प था की मोरोटोरियम समाय मे जो भी ब्याज बनता है उसे अगस्त मे एक मस्ट तरह से भुगतान किया जाए। 
  • दूसरा विकल्प था की EMI को वही रखकर लोन के समय को बढ़ा दिया जाए जिसमे आपके लोन के हफ्ते ब्याज के अनुसार बढ़ा दिए जायनेँगे। 
  • तीसरा विकल्प सबसे आसान था आप लोन मोरोटोरियम ना लेकर सीधे सामान्य तरीके से लोन का हफ्ता भुगतान करे। 

5 अक्टूबर को होनी है अगली सुनवाई :

  • हलाकि इस मामले मे अगली सुनवाई 5 अक्टूबर को होने वाली है। 
  • केंद्र सरकार के इस फैसले का का एलान सुप्रीम कोर्ट मे 5 तारीख को हो सकता है। 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां