-->

Paytm इस्तेमाल करने वालो के लिए बड़ी खबर अब क्रेडिट कार्ड से पैसे लोड करने पर देना होगा अतिरक्त शुल्क

मुंबई:कोरोना महामारी के बाद बोहोत सारे लोग ऑनलाइन कॅश लेस्स तरीके से अपने व्यव्हार को पूरा कर रहे है इस तरह से बिलो का भुगतान करना इस समय काफी आसान हो रहा है आप आपके स्मार्ट फ़ोन मई मोबाइल वॉलेट एप्लीकेशन डाउनलोड करके आपके बिजली का बिल ,मोबाइल डिश रिचार्ज,सिलिंडर बुक करना आदि काम कर सकते है अलग अलग वॉलेट मे सबसे ज्यादा Paytm वॉलेट इस्तेमाल किया जाता है इस वॉलेट मे पैसे डालना और उसे दूसरे को भेजना काफी आसान बना दिया है इसका शुल्क भी काफी कम है। लेकिन इस समय  Paytm इस्तेमाल करने वालो के लिए बुरी खबर है। Paytm वॉलेट इस्तेमाल करने वालो को आज से कुछ अपने वॉलेट ट्रांजक्शन पर अतरिक्त शुल्क देना पड़ेगा। 


Paytm वॉलेट मे क्रेडिट कार्ड से पैसे लोड करने पर लगेगा शुल्क :

  • Paytm की तरफ से दी जानकारी के मुताबिक 15 अक्टूबर 2020 से Paytm वॉलेट मे क्रेडिट कार्ड के जरिये पैसे लोड करने पर 2 फीसदी अतरिक्त शुल्क देना पड़ेगा जिसमे GST शुल्क भी शामिल होगा। 
  • Paytm ने इस बात की जानकारी अपने वेबसाइट के शुल्क सेक्शन मे अपडेट की है। 
  • इसका मतलब अगर आप क्रेडिट कार्ड के लरिये आपके वॉलेट मे 1 हजार की राशि लोड करते है तो आपको 200 रुपये का शुल्क लगेगा। 
  • आपको बता दे की इससे पहले क्रेडिट कार्ड के जरिये वॉलेट मे पैसे लोड करने पर कंपनी किसी भी तरह का शुल्क नहीं लेती थी। 
  • इसी समय एक बात ये है की Paytm क्रेडिट कार्ड से पैसे लोड करने पर 1 फीसदी कैशबैक की ऑफर भी दे रही है। 

इन बातो पर नहीं लगेगा कोई शुल्क :

  • कंपनी ने आगे इस सेक्शन मे कहा है की अगर आप Paytm से Paytm वॉलेट मे पैसे ऐड करते है तो आपको कोई शुल्क नहीं देना पड़ेगा। 
  • इसी समय आप आपके डेबिट कार्ड ,और नेट बैंकिंग के जरिये पैसे ऐड कर सकते है इसपर कोई शुल्क नहीं देना पड़ेगा। 
  • इसके आलावा आप Paytm वॉलेट के जरिये दूसरी वेबसाइट पर ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते है इसपर भी शुल्क नहीं देना पड़ेगा। 

इससे पहले ऐसा था नियम :

  • आपको बता दे की कंपनी ने इस नियम मे बदलाव करने से पहले अतरिक्त शुल्क के नियम काफी अलग थे। 
  • इससे पहले 10 हजार तक की राशि क्रेडिट कार्ड के जरिये वॉलेट मे ऐड करने के समय कोई अतरिक्त शुल्क नहीं लिया जाता था। 
  • लेकिन 10 हजार से ज्यादा की राशि के ऊपर 2 फीसदी का अतरिक्त शुल्क लिया जाता था। 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां