-->

इक्विटी फण्ड मे करना चाहते है निवेश इन 6 बातो पर रक्खे ध्यान मिलेगा अच्छा रिटर्न

भारत मे सीधे शेयर बाजार मे निवेश करने के बजाये म्यूच्यूअल फण्ड मे निवेश किया जाता है इसका प्रमुख कारन म्यूच्यूअल फण्ड मे निवेश करने के बाद निवेशक को अच्छी रिटर्न के लिए ज्यादा ध्यान देने की जरुरत नहीं पड़ती है। हलाकि सही म्यूच्यूअल फण्ड और सही तरह का फण्ड चुनना भीअच्छी रिटर्न पाने का सबसे महत्वपूर्ण अंग होता है जिसे निवेहक को खुद चुनना होता है। इस समय आप इक्विटी फण्ड ,डेब्ट फण्ड ,जैसे फण्ड विकल्पों मे निवेश कर सकते है। इसमे इक्विटी फण्ड अच्छी रिटर्न देने वाला बढ़िया निवेश विकल्प होता है क्यों की इस फण्ड के पोर्टफोलिओ मे अलग अलग कंपनी के शेयर होते है। हलाकि डेब्ट फण्ड के सामने इस फण्ड मे रिस्क लेवल भी ज्यादा होता है। 



ऐसे समय अगर इक्विटी फण्ड मे निवेश करने की सोच रहे है तो उससे पहले आपके निवेश लक्ष्य को पूरा करने वाला इक्विटी फण्ड चुनना काफी जरुरी है इस आर्टिकल के जरिये आपको सही म्यूच्यूअल फण्ड चुनने मे मदत मिलेगी। 

    इक्विटी फण्ड निवेश करने के पहले 6 बातो का रक्खे ध्यान :(Things To Keep In Mind Before Investing In Mutual Fund)


    1 इक्विटी फण्ड का प्रकार :(Types Of Mutual Fund)

    • इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड मे अलग अलग तरह के 4   म्यूच्यूअल फण्ड प्रकार है जिसमे आप एक चुनिए लक्ष के लिए निवेश कर सकते है.
    • इसमे पहला विकल्प है फ़ोकस्ड इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड जिसमे सिर्फ चुनिए कंपनी के शेयर मे निवेश किया जाता है इस तरह के म्यूच्यूअल फण्ड मे ज्यादा से ज्यादा 30 शेयर का पोर्टफोलिओ हो सकता है। 
    • दूसरे निवेश प्रकार मे किसी एक चुने हुए क्षेत्र के कंपनी के शेयर मे ही निवेश किया जाता है ठीक ऐसा जैसे फार्मा क्षेत्र चुनने के बाद सिर्फ इसी क्षेत्र के कंपनी के शेयर ख़रीदे जाते है। 
    • थीम आधारित म्यूच्यूअल फण्ड तीसरा इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड का विकल्प है जिसमे एक थीम बनाई जाती है और उसी पर शेयर लिए जाते है जैसे की इमर्जिंग कंपनी का पोर्टफोलिओ मे निवेश। 
    • इसी समय ऐसे भी म्यूच्यूअल फण्ड है जिसमे कंपनी के मार्किट कैपिटल के आधार पर निवेश किया जाता है जैसे की स्माल कैप ,मिड कैप और लार्ज कैप म्यूच्यूअल फण्ड कम्पनिया। 

    मौजूदा म्यूच्यूअल फण्ड प्रकार :

    1. लार्ज कैप म्यूच्यूअल फण्ड 
    2. स्माल कैप म्यूच्यूअल फण्ड 
    3. मिड कैप म्यूच्यूअल फण्ड 
    4. मल्टी कैप म्यूच्यूअल फण्ड 
    5. डिविडेंड यील्ड फण्ड 
    6. कॉण्ट्रा म्यूच्यूअल फण्ड 
    7. सेक्ट्रुअल फण्ड 
    8. ELSS फण्ड 
    9. थीमैटिक फण्ड 
    10. फोकस्ड फण्ड 

    2 म्यूच्यूअल फण्ड का साइज :(Size Of Mutual Fund)

    • इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड मे निवेश करते समय म्यूच्यूअल बड़ा है या छोटा है इस बात को देखना चाहिए। 
    • आपको कंपनी के Aum को देखने के बाद म्यूच्यूअल फण्ड की साइज की जानकारी मिलेगी। 
    • कम आकर वाले  म्यूच्यूअ फण्ड मे निवेश करने के बाद म्यूच्यूअल फण्ड के परफॉरमेंस पर असर पड़ता है जिससे रिटर्न कम हो सकती है। 

    3 टैक्स लाभ :(Tax Benifit)

    • अगर इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड मे निवेश के जरिये टैक्स लाभ लेना चाहते है तो आप ELSS इक्विटी लिंक्ड सेविंग स्कीम मे निवेश कर सकते है। 
    • इस इस तरह के म्यूच्यूअल फण्ड के जरिये निवेश करने के बाद सेक्शन 80 C के तहत आपको 1.5 लाख तक के इनकम पर टैक्स लाभ मिलता है। 
    • म्यूच्यूअल फण्ड मे निवेश करते समय आपको पता होना चाहिए की LTCG लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स के तहत म्यूच्यूअल फण्ड को 1 साल से ज्यादा होल्ड करने के बाद 1 लाख से ज्यादा की राशि पर 10 फीसदी LTCG कटती है। 
    • इसी समय STCG शार्ट टर्म कैपिटल गेन्स के तहत 1 साल से कम समय म्यूच्यूअल फण्ड रखने पर 15 फीसदी टैक्स कटत है। 

    4 एक्सपेंस रेश्यो :(Expencess Ratio)

    • सही म्यूच्यूअल फण्ड का चयन करते समय सबसे जरुरी बात म्यूच्यूअल फण्ड का एक्सपेंस रेश्यो होता है।
    • एक्सपेंस रेश्यो मतलब आपके म्यूच्यूअल फण्ड निवेश को मैनेज करने के लगने वाली कोस्ट जो आपसे ली जाती है। 
    • जब आप एक्टिव म्यूच्यूअल फण्ड मे निवेश करते है तो इसका एक्सपेंस रेश्यो अन्य म्यूच्यूअल फण्ड से ज्यादा होता है। 
    • म्यूच्यूअल फण्ड एक्सपेंस रेश्यो आपके रिटर्न पर प्रभाव डालता है इसलिए म्यूच्यूअल फण्ड को चुनते समय एक्सपेंस रेश्यो को ठीक से देखना चाहिए। 

    5 म्यूच्यूअल फण्ड का पिछले परफॉरमेंस :(Last Performance Of Mutual Fund)

    • म्यूच्यूअल फण्ड निवेश करते समय सिर्फ बड़े नाम को चुनने के बजाये उस फण्ड का पिछले ट्रैक रिकॉर्ड देखना चाहिए। 
    • आप गूगल पर जाकर आपके चुने हुए म्यूच्यूअल फण्ड का पिछले 5 साल का रिकॉर्ड देख सकते है और उसे अलग अलग म्यूच्यूअल फण्ड से तुलना भी कर सकते है। 

    6 आपका निवेश लक्ष और लाइफ गोल  :(Investment Objective)

    • आप म्यूच्यूअल फण्ड निवेश करना चाहते है इसका मतलब आपके मन मे भविष्य के फाइनेंसियल प्लानिंग का लक्ष होगा। 
    • अगर आप इसी लक्ष को ध्यान मे रखकर निवेश कर रहे है तो लक्ष के समय के अनुसार उतने ही समय के लिए म्यूच्यूअल फण्ड निवेश करना चाहिए। 

    म्यूच्यूअल फण्ड शेयर बाजार मे निवेश करने का सबसे आसान निवेश जरिया है हलाकि किसी भी म्यूच्यूअल फण्ड या फिर निवेश लक्ष को चुने बिना निवेश का कुछ फायदा नहीं हो सकता है।

    टिप्पणी पोस्ट करें

    0 टिप्पणियां