-->

डीमैट खातेधाराक्को के लिए 31 जुलाई के पहले करना होगा KYC वेरिफिकेशन नहीं तो बंद हो सकते है खाते

डीमैट खाते से जुड़ा KYC वेरिफिकेशन का नियम 1 अगस्त 2021 से बदलने जा रहा है। डीमैट और ट्रेडिंग खाता होने वाले लोगो के लिए यह नियम के अनुसार KYC वेरिफिकेशन करना अनिवार्य है वार्ना खाता बंद हो सकता है। आपको बता दे की डीमैट और ट्रेडिंग खातेधारकको के लिए 31 जुलाई 2021 के पहले KYC डिटेल पूरा करने को कहा गया है। KYC वेरिफिकेशन पूरा ना होने वाले लोगो के लिए यह आखिरी चेतावनी होगी। 


NSDL और CDSL की तरफ से जारी हुआ था निर्देश :

  • नेशनल सिक्योरिटीज एंड डिपॉजिटरीज लिमिटेड और सेंट्रल डिपॉजिटरीज सर्विसेज की तरफ से अप्रैल मे जारी किया था निर्देश। 
  • इस निर्देश के मुताबिक 31 जुलाई के KYC जानकारी को अपडेट करने को कहा गया था। 
  • KYC डिटेल मतलब डीमैट खातेधारक को उसका नाम ,पता ,पैन कार्ड नंबर ,मोबाइल नंबर। मेल आय डी ,और इनकम से जुडी जानकारी अपडेट करने को कहा गया है। 

सभी नए और पुराने खातेधारकको के लिए KYC अपडेट अनिवार्य :

  • यह निर्देश जारी होने के पहले जिनकी KYC अपडेट बाकि थी उनको 31 जुलाई के पहले इसे अपडेट करना होगा। 
  • वही निर्देश जारी होने के बाद मई और  जून के बाद खोले गए खातों के लिए भी यह KYC अपडेट करना जरुरी है। 
  • इस समय सभी चालू डीमैट खातों की यह जानकारी को वेरिफाई किया जा रहा है। 

भारत मे शेयर बाजार निवेश बढ़ा :

  • आपको बता दे की भारत मे साल 2020 मे कुल 4.9 मिलियन नए डीमैट खाते खोले गए है। 
  • वही सिर्फ अप्रैल और जून मे 24 लाख से ज्यादा नए डीमैट खाते खोले जा चुके है। 
  • पिछले 2 सालो से खुदरा निवेशक का निवेश शेयर बाजार मे बढ़ रहा है। 
  • तेजी से बढ़ते इन नए डीमैट खातों पर नियंत्रण रखना भी जरुरी है। 
  • बदलते हालत मे भारत मे शेयर बाजार पर पैसे लगाकर रिटर्न बनाने की लोकप्रियता बढ़ रही है। 

डिजिटल तकनीक से डीमैट खाता खोलना आसान :

  • तकनीक के दौर मे डीमैट और ट्रेडिंग खाता खोलना काफी आसान बन चूका है। 
  • बस कुछ क्लिक मे अब आपका खुद का शेयर बाजार डीमैट और ट्रेडिंग खता खोल सकते है। 
  • युवा वर्ग मे मोबाइल एप्लीकेशन के जरिये शेयर बाजार ट्रेडिंग बढ़ रही है। 
  • हलाकि इसी समय KYC वेरिफिकेशन पेंडिंग होने कि समस्या भी बढ़ रही है। 

एक टिप्पणी भेजें