-->

International Mutual Fund कैसे करे निवेश ? कितना है फायदा यहाँ जाने पूरी जानकारी

इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड मतलब विदेश के शेयर बाजार मे म्यूच्यूअल फण्ड के जरिये निवेश करना। शेयर बाजार मे भारतीयों का निवेश लगातार बढ़ रहा है। इसी समय निवेशक और आगे जाकर विदेशो बाजारों मे निवेश करके अपने रिटर्न को और बढ़ाना चाहते है इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड के जरिये इस उद्देश्य को पूरा किया जा सकता है। अमेरिकी मार्किट मे निवेश की सुविधा अब कई भारतीय स्टॉक ब्रोकर दे  रहे है सीधे निवेश के बजाये नए म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम मे लोग निवेश करना चाहते है। हलाकि निवेश करने के पहले ऐसे फण्ड की रिस्क ,मुनाफे की क्षमता को अच्छे से जान लेना चाहिए।चलिए आज जानते है म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम के बारे मे। 


इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड क्या है ?(What Is International Mutual Fund)

  • इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड ऐसे फण्ड होते है जो की विदेशी शेयर बाजार मे लिस्टेड कंपनी मे निवेश करते है। 
  • इंटरनेशनल फण्ड मे जोखिम बोहोत ज्यादा होती है इसी समय रिटर्न भी सबसे ज्यादा होता है। 
  • भारतीय निवेशक इसे लम्बे समय निवेश के विकल्प के तौर पर निवेश करने लगे है। 
  • बढ़ते टेक्नोलॉजी और बदलते निवेश की रणनीति का परिणाम म्यूच्यूअल फण्ड हाउस भी ऐसे नए नए फण्ड स्कीम ला रही है। 

इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड की विशेष बातें :(Features Of International Mutual Fund)


दुनिया भर के कंपनियों मे निवेश :(Investment Across World Best Companies)
  • इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड के जरिये पुरे दुनिया भर के सबसे अच्छे कमापनियों मे निवेश करने का मौका मिलता है। 
काफी ज्यादा सेंसेटिव :(Highly Sensetive Share Market)
  • अलग अलग देशो के शेयर इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड मे होते है जो की अलग अलग बातो से प्रभावित होते है। 
  • किसी देश मे अगर कोई राजकीय या भी सामाजिक बदलाव होते है तो उसका असर  उस शेयर और म्यूच्यूअल फण्ड निवेश पर पड़ता है। 
  • इसलिए म्यूच्यूअल फण्ड मैनेजर और निवेशक दोनों ज्यादा सतर्क रहकर होल्डिंग पर ध्यान देना पड़ता है।
रूपया डॉलर दर का असर :(Effect Of Curency Exchange Rates)
  • जब आप अमेरिकन शेयर वाले म्यूच्यूअल फण्ड मे निवेश करेंगे तो शेयर बाजार  के आलावा रूपया और डॉलर के रेट भी आपके निवेश पर असर करेंगे। 
  • अगर डॉलर की कीमत बढ़ती है तो म्यूच्यूअल फण्ड NAV बढ़ेगा और आपको अच्छी रिटर्न मिलेगी। 
  • लेकिन इसी समय रुपये की कीमत मे बढ़ोतरी से NAV कम होकर रिटर्न कम हो सकती है। 
जबरदस्त रिटर्न की  क्षमता :(Higher Returns)
  • इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड अलग अलग देशो के शेयर बाजार से चुने हुए शेयर मे निवेश करते /है.
  • इस तरह की निवेश रणनीति आपके निवेश होल्डिंग को और मजबूत बनती है। 
  • इसी समय ऐसे म्यूच्यूअल फण्ड आपको सामान्य से अच्छी रिटर्न दिलाते है। 
टैक्स :(Tax)
  • किसी भी म्यूच्यूअल फण्ड पर आपको छोटे समय के  लिए शार्ट और लम्बे समय निवेश के लिए लॉन्ग तेर, कैपिटल गेन  देना पड़ता है। 
  • LTCG के तहत 3 साल बाद म्यूच्यूअल फण्ड निवेश रिडीम करने पर राशि पर 20 फीसदी टैक्स देना पड़ता है /
  • STCG के तहत 3  साल के पहले म्यूच्यूअल फण्ड बेचने पर आपके टैक्स ब्रैकेट के अनुसार टैक्स लगता है।
  • इसी समय ऐसे म्यूच्यूअल फण्ड से मिलने वाले डिविडेंड पर भी टैक्स स्लैब के तहत टैक्स लगता है। 
    

बाजार की जोखिम :(Risk Factor)

  • इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड मे अच्छे शेयर चुनकर रिटर्न प्राप्त करने के लिए काफी रिसर्च जरुरी है। 
  • किसी एक देश के शेयर बाजार के गिरावट से म्यूच्यूअल फण्ड परफॉरमेंस गिर सकता है। 

इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड  के प्रकार :(Types Of International Mutual Funds)


1 कंट्री फंड्स :(Country Funds)
  • कंट्री फंड्स म्यूच्यूअल फण्ड निवेश का एक ऐसा विकल्प है जिसमे सिर्फ एक ही विदेशी देश के शेयर  बाजार से लिस्टेड चुने हुए शेयर होल्ड किये जाते है। 
  • इस तरह के म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम मे निवेश करना और होल्डिंग का अभ्यास करना आसान होता है। 
2 ग्लोबल फंड्स :(Global Funds)
  • ग्लोबल फंड्स ऐसे म्यूच्यूअल फण्ड निवेश विकल्प होते है जो विदेशी देश दूसरे देशो के निवेशकको को निवेश विकल्प देता है। 
  • इसमे दूसरे देश के निवेशक निवेश कर सकते है। 

ग्लोबल सेक्टर फंड्स :(Global Sector Funds)

  • ग्लोबल सेक्टर फण्ड मे दूसरे देश के शेयर बाजार के एक चुने हुए सेक्टर के शेयर होल्ड किये जाते है। 
  • इससे अगर किसी देश का जो क्षेत्र सबसे मजबूत है उसमे निवेश होता है और रिटर्न की क्षमता बढ़ती है। 
  • सेक्टर के आलावा किसी एक क्षेत्र से जुड़े फण्ड भी होते है जिसमे लोकल कंपनी के शेयर होते है। 

इंटरनेशनल म्यूच्यूअल  फण्ड के लाभ :(Benifits Of International Mutual Fund)

  • इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड के जरिये आप अलग अलग देशो के शेयर बाजार से अलग अलग कंपनी के शेयर होल्ड करते है। 
  • इस तरह के निवेश होल्डिंग से विविधता बढ़ती है और ख़राब हालत मे भी आपका निवेश ठीक  रहता है। 
  • म्यूच्यूअल फण्ड मे निवेश करने के लिए फण्ड हाउस काफी अनुभवी और एक्सपर्ट लोगो को चुनते है। 
  • ऐसे लोगो को देशो के शेयर बाजार के बारे मे जानकारी होती है जिससे निवेशक सुरक्षित महसूस कर सकता है। 
  • काफी कम समय मे अच्छी रिटर्न और आपके निवेश लक्ष को पूरा करने मे इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड लाभदायक हो सकते है। 
  • इसी समय देशी शेयर के साथ विदेशी शेयर आपके निवेश को अच्छा सपोर्ट प्रदान करेंगे। 

इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड अक्सर पूछे जाने वाले सवाल :(FAQ)


1 अमरीकी म्यूच्यूअल फण्ड मे  भारत से कैसे करे निवेश ?
  • भारतीय निवेशक US Focused इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड  के जरिये अमरीकी म्यूच्यूअल  फण्ड मे निवेश कर सकते है। 
  • भारत की म्यूच्यूअल फण्ड हाउस AMC FoF फण्ड ऑफ़ फण्ड का विकल्प देती है जो आपके फण्ड को दूसरे म्यूच्यूअल फण्ड मे निवेश करती है जो सीधे विदेशो शेयर बाजार मे निवेश करते है। 
  • ज्यादातर म्यूच्यूअल फण्ड दूसरे देशो के इक्विटी शेयर मे निवेश करती है। 
  • FoF म्यूच्यूअल फण्ड का एक्सपेंस रेशो ज्यादा होता है। 
2  भारत मे मौजूद US Focused म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम कौन से है ?
  • ICICI Prudential US Bluechip Equity Fund
  • Motilal Oswal NASDAQ 100 ETF
  • Nippon India US Equity Opportunities Fund
3 किसके लिए बेहतर है इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड निवेश ?
  • शेयर बाजार की अछि जानकारी होने वाले निवेशक विदेशी म्यूच्यूअल फण्ड विकल्प चुन सकते है। 
  • इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड मे जोखिम  है इसलिए रिस्क लेने की क्षमता होने वाले निवेशक निवेश कर सकते है। 
4 कैसे चुने सबसे बढ़िया इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड?
  • सबसे पहले म्यूच्यूअल फण्ड चुनने के लिए आपको बुनियादी नियमो का पालन करना होगा। 
  • चुने हुए म्यूच्यूअल फण्ड का परफॉरमेंस उसका एक्सपेंसेस रेशो आपको देखना होगा। 
  • म्यूच्यूअल फण्ड के शेयर होल्डिंग मे मौजूद शेयर का भी रिसर्च करना होगा  

इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड क्या करना चाहिए निवेश ?(Should You Invest)

  • इंटरनेशनल म्यूच्यूअल फण्ड ज्यादा रिस्क लेकिन अच्छी रिटर्न देने वाला निवेश विकल्प है। 
  • इस समय भारतीय AMC FoF  के जरिये विह्देशी म्यूच्यूअल फण्ड निवेश मे निवेश किया जा सकता है। 
  • इसमे आप SIP निवेश भी कर सकते है। 
  • अगर आप US के शेयर मे निवेश करना चाहते है तो US Focused म्यूच्यूअल फण्ड  विकल्प मे निवेश करना चाहिए। 
Sandesh shinde
मनी फाइंडर हिंदी वेबसाइट पर आपको लेटेस्ट फाइनेंस न्यूज़ की जानकारी मिलेगी इसके आलावा नए नए इन्वेस्टमेंट विकल्प के बारे मे बताया जायेगा
Subscribe Our Newsletter