-->

LIC Micro Bachat Plan 851 LIC माइक्रो बचत प्लान की पूरी जानकारी

नमस्कार दोस्तों LIC भारत की सबसे अच्छी इन्शुरन्स कंपनी है और LIC ने बोहोत सरे अच्छे बिमा प्लान्स अपने ग्राहक को दिए है  और इस साल LIC ने नया प्लान सादर किया है जिसका नाम है LIC माइक्रो बचत प्लान आइये जानते है इस प्लान के बारे में।
https://www.moneyfinderhindi.com/2019/03/lic-micro-bachat-plan-851-lic.html



क्या है LIC माइक्रो  बचत प्लान ८५१ । :


LIC  माइक्रो बचत प्लान एक प्रीमियम नॉन लिंक्ड प्लान है आपको बचत के साथ इन्शुरन्स प्रदान करता है LIC माइक्रो बचत प्लान को इस प्रकार से बनाया गया  है की अगर बिमा धारक को कुछ हो जाये तो उसके बाद परिवार के लिए कुछ राशि मिल जाये और अगर बिमा धारक को बिमा के अवधि मे कुछ नहीं हुआ तो  बिमा धारक को MATURITY की राशि मिल जाती है इस प्लान को इस साल ही लांच किया गया है इस प्लान से आपके फॅमिली को एक आर्थिक आधार मिलता है और एक बचत के तौर पर भी देखा जा सकता है और है इस पालिसी से आप लोन भी पा सकते है और इसके आलावा बोहोत सरे फायदे है इस प्लान के जैसे की आपको सेक्शन ८० c के तहत टैक्स मे रहत मिलती है।




LIC माइक्रो बचत प्लान लेने के लिए जरुरी पात्रता। :



  • LIC माइक्रो बचत प्लान लेने के लिए आपको कम से कम ५० हजार तक बिमा करना होगा। 
  • और ज्यादा से ज्यादा आप २ लाख तक का बिमा ले सकते है। 
  • कम से कम आयु १८ साल जरुरी। 
  • ज्यादा से ज्यादा ५५ साल तक के व्यक्ति बिमा ले सकते है। 
  • ७० साल तक maturity मान्य है। 

LIC माइक्रो बचत प्लान के फायदे। :

  • १) डेथ  बेनिफिट। :

अगर पालिसी का सारा प्रीमियम भर दिया हो और पालिसी के अवधि समाप्त होने से पहले अगर बिमा धारक की मौत हो जाये तो जो राशि अशुअर्ड की गए वो राशि बीमाधारक के परिवार को मिलती है। अगर सरे हफ्ते भर दिए है तो परिवार को अशुअर्ड की गए राशि मिल जाती है 

२) परिपक्वता (Maturity )बेनिफिट :


अगर माइक्रो बचत प्लान के सारे हफ्ते भरने के बाद पालिसी के समाप्ति होने तक बिमा धारक सही सलामत बच जाता है तो तो जो राशि अशुअर्ड की गए है वो राशि बिमा धारक को सोप दी जाती है 

३) सरेंडर बेनिफिट :


अगर आपको ऐसा लगता है की आप बाकि के प्लान के हफ्ते भर नहीं सकते है तो आप इस प्लान को सरेंडर कर सकते है लेकिन इसके लिए आपको कम से कम पहले १ साल के हफ्ते भरना अनिवार्य है और उसके बाद पालिसी बंद करने के लिए आवेदन कर सकते है और आपको जो सिमित सरेंडर की राशि है वो दी जाएगी 

४) लॉयल्टी का साथ :


LIC की तरफ से खास तौर पर इस प्लान मे यह एडिशन किया गया है जिसमे अगर आपने आपके पालिसी के ५ साल पुरे कर दिए है और अगर आप क्लेम के लिए आवदेन किया है (अवधि पूरा होने पर ) तो आपको इस ऑडिशन का फायदा मिल सकता है 

५) लोन सुविधा :


इस प्लान के जरिये आप आपके माइक्रो बचत प्लान पर लोन ले सकते है इसके लिए आपको पालिसी के ३ साल पुरे होना जरुरी और LIC के अनुसार आप ६० से ७० प्रतिशत तक लोन दिया जाता है 

६) ऑटो कवर पीरियड :


जब आप पहले प्रीमियम का भुगतान करते है और बाद के हफ्ते का भुगतान नहीं कर पाते है तब आपको ऑटो कवर समय का लाभ मिलता है इसके लिए आपको पहले ३  साल तक का प्रीमियम भरना होता है और फिर आपको ग्रेस समय भी मिलता है

७ ) ग्रेस पीरियड :


इस माइक्रो बचत प्लान मे आपको ३० दिन का ग्रेस समय मिलेगा जिनसे आप आपके पालिसी के प्रीमियम को १ महीने के अवधि मे  भर सकते है

८ ) फ्री ट्रायल टाइम :


अगर आपने LIC माइक्रो बचत प्लान लिया है और आप इस प्लान से संतुष्ट नहीं है तो आप इस प्लान को लौटा सकते है  लेकिन १५ दिन  अंदर लौटा सकते है और आप क्यों नहीं लेना चाहते इसका कारन बताना होगा

 ९ ) रिवाइवल बेनिफिट :


अगर  आपने पिछले २ साल से आपके पालिसी का प्रीमियम नहीं भरा है तो वो पालिसी लैप्सेड हो जाती है लेकिन पालिसी का समय बाकि है तो आप उस पालिसी को फिर से चालू कर सकते है।

LIC माइक्रो बचत प्लान मे कुछ ऐसे विकल्प है जिन्हे आप आपके जरुरत के अनुसार ले सकते है लेकिन उसके लिए आपको एक्स्ट्रा प्रीमियम देना पड़ेगा। 

१) आकस्मित /अपघातिया मृत्यु :


इस विकल्प के अनुसार अगर LIC बिमा धारक का अपघात  हो जाये और उसका मृत्यु या फिर शारीरिक विकलांगता आ जाये तो इस  विकल्प के तहत जो राशि बीमित की गए है वो बिमा धारक के वारिस को मिलती है यह विकल्प बिमा धारक पालिसी के समय कभी भी ले सकता है लेकिन उसका प्रीमियम आपको पूरा भरना होगा


कौन सी बातें शामिल नहीं है इस प्लान मे ??


१) आत्महत्या : अगर कोई बिमा धारक आत्महत्या करता है तो बिमा धारक से सम्बंधित उसका रिश्तेदार क्लेम का दावा नहीं कर सकता क्यों की आत्महत्या इस प्लान मे कवर नहीं की गई है।


 पॉलिसी की समाप्ति किस प्रकार से होती है ???


आपकी पालिसी का अवधि समाप्त होने पर आपकी पालिसी अपने आप बंद हो जाती है लेकिन कुछ ऐसे अन्य कारन भी है जिससे आपकी पालिसी की बंद हो सकती है  जैसे की


  1. पहले १५ दिन मे पालिसी कैंसिल करवाने पर आपका प्लान समाप्त हो सकता है। 
  2. अगर आपने LIC माइक्रो बचत प्लान पर लोन लिया है और उसका व्याज का पेमेंट करते समय पालिसी समाप्त हो सकती है। 
  3. अगर आपकी पालिसी लैप्स हो गए है और अगले २ साल तक आपने उसपर कुछ नहीं किया तो आपकी पालिसी समाप्त हो जाएगी। 
  4. MATURITY के समय पालिसी समाप्त हो जाती है। 
  5. २ से ३ साल तक प्रीमियम भरने के बाद अगर आप आपके कुछ निजी कारणों से प्रीमियम भर नहीं सकते तो तो आप पालिसी बंद करने के लिए अप्लाई कर सकते है और इससे आपकी पालिसी अवधि के पहले समाप्त हो जाएगी 
  6. अगर बिमा धारक की मौत हो जाती है उसका कक्लेम परिवार को दिया जाता है और इसके साथ पालिसी समाप्त हो जाती है। 

क्लेम /दावा करने के लिए जरुरी दस्तावेज :


बिमा धारक की मौत होने के बाद ९० दिन के अंदर बिमा कंपनी को इसकी जानकारी देना अनिवार्य है इसके आलावा डेथ सर्टिफिकेट भी देना होगा 
  •  क्लेम फॉर्म 
  • LIC माइक्रो बचत प्लान के असली दस्तावेज 
  • अगर बिमा धारक की मौत के बाद आवेदन किया है तो डेथ का प्रूफ /सर्टिफिकेट देना होगा 
  • बैंक के जरिये क्लेम पाने के लिए बैंक के NEFT मैंडेट 
  • बिमा धारक के अस्पताल भर्ती करने के बाद का बिल 
  • बिमा धारक के जहा काम करता है  वहा के कंपनी का सर्टिफिकेट 
  • बिमा धारक के अपघात के समय की सही आयु का प्रूफ देना होगा 
अगर आप LIC माइक्रो बचत प्लान की अवधि समाप्त होने पर या फिर बिच मे पालिसी बंद  करवाने के लिए भी यही डाक्यूमेंट्स देने होंगे तथा डेथ सर्टिफिकेट की बात इसमे नहीं आएगी। 

LIC माइक्रो बचत प्लान के प्रीमियम दर :


 ऐसा समझ लीजिये की आपकी उम्र ३५ साल है और आपको LIC माइक्रो बचत प्लान लेना है और आपकी यहाँ इच्छा है की आपको १५ साल के पालिसी के अवधि के लिए १ लाख की राशि अंकित करनी है तो आपको सालाना कितना प्रीमियम भरना पड़ेगा चलिए इसका जवाब मे आपको बताता हु की १५ साल के लिए हर साल आपको ५११६ रुपये का प्प्रीमियम भरना होगा 























एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ