-->

म्यूच्यूअल फण्ड मे निवेश करने के फायदे (Mutual Fund Benifits)

बोहोत सारे लोग शेयर बाजार मे निवेश करने के लिए घबराते है। उनका यह मानना होता है की शेयर मार्किट मार्किट मे पैसे कभी नहीं कमा सकते। जो लोग शेयर  बाजार मे सीधा निवेश नहीं करना चाहते उनके लिए म्यूच्यूअल फण्ड एक सबसे अच्छा निवेश विकल्प है। म्यूच्यूअल फण्ड मे निवेश करके आप आसानी से शेयर बाजार से अच्छी इनकम प्राप्त कर सकते है।



    क्या है म्यूच्यूअल फण्ड निवेश ?(What is Mutual Fund)


    म्यूच्यूअल फण्ड ऐसा एक ऐसा निवेश फण्ड होता है जिसमे सभी निवेशक एक साथ एक फण्ड मैनेजर के पास पैसे निवेश करते है। और फण्ड मैनेजर जो की शेयर बाजार मे प्रोफेशनल और एक्सपर्ट होता उसके साथ अनुभवी स्टाफ भी होता है वो सभी निवेशक के पैसे अलग अलग शेयर बांड एसेट गोल्ड ऐसी जगह निवेश करता है। इससे जो भी नफा होता है उसको निवेशक को उनको हिस्से के अनुसार दिया जाता है।


    म्यूच्यूअल फण्ड के प्रकार।(Types Of Mutual Fund)


    म्यूच्यूअल फण्ड अलग अलग तरीके के होते है जिससे आप आपके निवेश जरुरत को पूरा कर सकते है। चलिए जानते है इनके बारे मे।

    १ इक्विटी फण्ड :(Equity Mutual Fund)

    इक्विटी सीधा शेयर बाजार से जुड़ा होता है। ऐसे म्यूच्यूअल फण्ड मे आपके पैसे सीधे शेयर मे निवेश किये जाते है। इसमे सबसे ज्यादा रिटर्न मिलती है और है रिस्क भी उतनी ही होती है। आपको इस इक्विटी फण्ड मे ही अलग अलग तरह के म्यूच्यूअल फण्ड मिलेंगे। इसमे डिविडेंड देने वाले और डिविडेंड न देनेवाले शेयर और म्यूच्यूअल फण्ड  भी होते है।

    २ इंडेक्स फण्ड :(Index Mutual Fund)

    इंडेक्स फण्ड मे आपके पैसे एक एक ही इंडेक्स सेगमेंट मे लगाए जाते है। और जब भी उस इंडेक्स ऊपर जाता है म्यूच्यूअल फण्ड भी ऊपर जाता है ,इसमे ज्यादातर लोग कम निवेश करते है  इसकी बजह इसमे रिटर्न ज्यादा नहीं मिलती है।

    ३ स्पेशलिटी फण्ड :(Specialty Mutual Fund)

    स्पेशलिटी फण्ड ऐसे फण्ड होते है जिनमे कुछ खास जगह पर ही निवेश किया जाता है। जैसे की सिर्फ कमोडिटी मे ही निवेश करने वाले म्यूच्यूअल फण्ड या फिर ऐसी कम्पनिया जो सिर्फ एक ही तरह के प्रोडक्ट बेचते हो इस तरह से एक खास मतलब पर इस म्यूच्यूअल फण्ड मे निवेश किया जाता है।

    ४ मनी मार्किट फण्ड :(Money Market Mutual Fund)

     मनी मार्किट फण्ड छोटे समय  के निवेश के लिए जाने  जाते है इसमे सरकारी बांड कमर्शियल पेपर ,डिपाजिट सेर्टिफिकेट ऐसे मे निवेश किया जाता है। इस तरह के म्यूच्यूअल फण्ड सबसे सुरक्षित होते है लेकिन रिटर्न भी बोहोत कम होती है।


    ५  फिक्स्ड इनकम फण्ड :(Fixed Income Mutual Fund)

    फिक्स्ड;इनकम म्यूच्यूअल फण्ड मे ऐसी जगह निवेश किया जाता है जहा पर उनको फिक्स्ड इनकम मिलती है। जैसे की सरकारी बांड और अन्य  कॉर्पोरेट बांड मे निवेश किया जाता है इससे रेगुलर इनकम इस म्यूच्यूअल फण्ड को मिलती है। इसमे भी आपको बोहोत सारे म्यूच्यूअल फण्ड मिलेंगे।

    ६ बैलेंस्ड फण्ड :(Balanced Mutual Fund)

    बैलेंस्ड फण्ड को आप  सभी म्यूच्यूअल फण्ड का मिक्स भी कह सकते है। इसमे थोड़ी फिक्स्ड मे निवेश होता है थोड़ा इक्विटी मे इसमे सभी तरह का निवेश करके म्यूच्यूअल फण्ड को संतुलन बनाने की कोशिश की जाती है। इसमे रिस्क ज्यादा होती है लेकिन सबसे अच्छी ज्यादा रिटर्न भी आपको इस तरह के म्यूच्यूअल फण्ड से मिलती है।


     ७ फण्ड ऑफ़ फंड्स :(Fund Of Funds Mutual Fund)

    इस म्यूच्यूअल फण्ड मे दूसरे निवेश फण्ड मे सीधा निवेश किया जाता है। इसमे निवेशक के लिए सबसे अच्छी निवेश सुविधा मिलती है। इसमे रिटर्न भी ज्यादा अच्छा मिलता है और रिस्क भी काफी कम होती है।

    म्यूच्यूअल फण्ड मे निवेश करने के फायदे :(Benifits of Mutual Fund)


    • म्यूच्यूअल फण्ड निवेश कोई भी कर सकता है  जब की आप ५०० रूपये से भी निवेश की शुरवात कर सकते है। 
    • म्यूच्यूअल फंड्स से किसी भी सेगमेंट मे निवेश होती है। 
    • म्यूच्यूअल फण्ड मे आपके पैसे शेयर बाजार मे लगाने के लिए अच्छा प्रोफेशनल और अनुभवी स्टाफ होता है जिससे आपके निश्चिंत रह सकते है। 
    • म्यूच्यूअल फण्ड मे निवेश करने से आपके पैसे अलग अलग जगह निवेश होते है। 
    • शेयर बाजार मे सीधे निवेश के मुकाबले म्यूच्यूअल फण्ड मे अच्छी रिटर्न की गारंटी होती है। 
    • म्यूच्यूअल फण्ड मे आप कम पैसो से भी निवेश कर सकते है इसके आलावा महीने की SIP सेवा भी होती है। 
    • ऐसे म्यूच्यूअल फण्ड है जिनमे आप जब चाहे पैसे निकल सकते है जिससे आपको फिक्स्ड डिपाजिट जैसे लम्बे समय के लिए निवेश करने की जरुरत नहीं पड़ती है। 
    • म्यूच्यूअल फण्ड मे आप जिस फण्ड मे निवेश कर रहे है उसका ग्रोथ आप देख सकते है इसके आलावा उनकी होल्डिंग भी सभी लोग देख सकते है जिससे आपके पैसे डूबने की संभावना काफी कम होती है। 
    • जब हम शेयर बाजार मे खुद निवेश करते है तब हमें सभी बातो को देखने और शेयर का रिसर्च करने का इतना समय नहीं होता है इसके आलावा उतना टेक्नीकल ज्ञान भी नहीं होता है जब की म्यूच्यूअल फण्ड अच्छी तरह से मैनेज किया जाता है.
    • शेयर बाजार मे गिरावट से ज्यादा असर नहीं पड़ता क्यों की म्यूच्यूअल फण्ड हमेशा इसके लिए तैयार होते है और अलग अलग होलिडंग रखते है। 

      म्यूच्यूअल फण्ड हमेशा  से एक अच्छ निवेश विकल्प रहा है तो आप भी कीजिये म्यूच्यूअल फण्ड निवेश। 

    टिप्पणी पोस्ट करें

    0 टिप्पणियां