-->

07 डिविडेंड देने वाले शेयर्स जो आप लम्बे समय के लिए रखना चाहेंगे (Top 07 Shares For Long Term Investment)

२०१९ का वित्तीय वर्ष मे शेयर बाजार ने बोहोत ज्यादा उतर चढाव देखे इसमे सबसे ज्यादा गिरावट ही देखने को मिली मोदी सरकार के सत्ता आने से बाजार उछलने की उम्मीद थी लेकिन GDP गिराने से बाजार और निचे चला गया। ऐसे मे बोहोत सरे लोगो को loss हुआ और इसमे खुद मे भी शामिल हु। लेकिन फिर भी इस बात से मेरे पोर्टफोलिओ पर ज्यादा फरक नहीं पड़ा क्यों की मैंने जो शेयर लिए थे वो लम्बे समय के लिए थे। जरा सोचिये बाजार मे गिरावट शार्ट टर्म ट्रेडिंग करने से होती है और अगर आप लम्बे समय के लिए निवेश कर रहे हो तो आपके ऊपर इसका कोई फरक नहीं पड़ता इससे आपको डिविडेंड भी मिलता रहते इसके लिए आपको डिविडेंड देने अच्छे शेयर्स पर अभ्यास करना जरुरी है।





अगर आप शेयर के बारे मे अच्छी तरह से अभ्यास करेंगे और उसके अनुसार लम्बे समय के लिए डिविडेंड वाले शेयर चुनेंगे तो आपको कभी घाटा नहीं होगा इसी लिए मे  आपको २० शेयर की जानकारी देने जा रहा हु जिससे आप डिविडेंड वाले शेयर आसानी से चुन सकते है और इससे आपको निवेश करने मे आसानी होगी। यह सरे शेयर्स अच्छे  डिविडेंड देने के लिए जाने जाते है।

https://www.moneyfinderhindi.com/2019/08/07-top-07-shares-for-long-term.html
अच्छे डिविडेंड देने वाले शेयर्स लेने के लिए अभ्यास की जरुरत होती है 



    १) रिलायंस कैपिटल :(Reliance Capital ) 


    जब भी आप आप किसी शेयर को लम्बे समय तक डिविडेंड के हेतु खरीदने की सोचते है ये बातें जरूर देखनी चाहिए।


    • कंपनी का मैनेजमेंट : रिलायंस कैपिटल कंपनी के चैयरमेन है अनिल धीरूभाई अम्बानी जिनका नाम सब लोग जानते और ये बात बताने जरुरत नहीं की ये नाम कितना पावरफुल है इसके आलावा कंपनी के वाईस चेयरमैन है अमिबत झुंझुनवाला जो काफी अच्छे और अनुभवी कुशल बिजनेसमैन है। 
    • कंपनी का पिछले इतिहास :रिलायंस कैपिटल कंपनी की स्थापना १९८६ मे रिलायंस इंडस्ट्रीज ने की और सन १९९० मे सेबी से मान्यता लेकर  शेयर बाजार मे कदम रखा उसके बाद १९९३ मे १० लाख प्रति शेयर के दर से २ शेयर ाललटेड किये। और इसके बाद कंपनी बड़े बड़े प्रोजेक्ट मे  निवेश करना शुरू किया। 
    • कंपनी का कार्यक्षेत्र :रिलायंस कंपनी आमतौर पे फाइनेंस और इन्वेस्टमेंट के क्षेत्र मे सक्रिय है। 
    • रिलायंस कैपिटल कंपनी की AGM Meeting हर साल सितम्बर हो होती है। 
    • रिलायंस कैपिटल १ मिडकैप वाला शेयर है। 
    • जिसकी शेयर की फेस वैल्यू १० रुपये है। 
    • रिलायंस कैपिटल दिसंबर २०१८ मे कंसोलिडेटेड नेट सेल्स ५००० करोड़ के ऊपर जो की पिछले साल के मुकाबले ५.३३ प्रतिशत ज्यादा है। 
    • अब बात करते है कंपनी के प्रॉफिट एंड लोस्स के अकाउंट के बारे मे जिसमे आपको कंपनी का नेट प्रॉफिट चेक करना है। इसमे आप साफ़ तौर से देख सकते है की कंपनी का नेट प्रॉफिट २०१४ मे ४०९ करोड़ था जो की २०१८ मे बढ़कर ८२८ करोड़ तक पहुंच गया है। लेकिन २०१६ के के मुकाबले कम हुआ है इसका मतलब कंपनी अच्छी प्रोग्रेस कर और आगे के समय और आगे जा सकती है। 
    • उसके बाद कंपनी के ईपीएस की बारी आती है २०१४ मे कंपनी का EPS था १६ रुपये प्रति शेयर (EPS का मतलब एअर्निंग पर शेयर ) सिर्फ ४ साल मे बढ़कर ३२ रुपये तक पहुंच गया है। 
    • Reliance Capital कंपनी ने २०१४ मे  कुल २०९ करोड़ इक्विटी शेयर डिविडेंड दिया था  और २०१८ मे २६५ करोड़ का डिविडेंड शेयर धारको को दिया गया जिसका प्रतिशत ८५ से बढ़कर ११० प्रतिशत तक बढ़ गया है। 
    • अगर आप EPS और डिविडेंड दोनों की तुलना करेंगे को कंपनी का EPS बोहोत अच्छी तरह से बढ़ा और आगे भी बढ़ने की संभावना है और इससे कंपनी की डिविडेंड यील्ड रेश्यो भी बढ़ सकती है। 
    • कंपनी का शेयर होल्डिंग पैटर्न  मे कंपनी के प्रमोटर  की होल्डिंग ज्यादा हे इससे कंपनी की प्राइस ज्यादा नहीं गिरती है और इससे अच्छी कंपनी माना जा सकता है। 
    • रिलायंस कैपिटल Foreign Institutional Investors और LIC की शेयर होल्डिंग भी शामिल है। 
    • अगर आप बजाज फाइनेंस जैसे बड़ी कंपनी से रिलायंस कैपिटल की तुलना करेंगे तो आपको रिलायंस कैपिटल किस तरह आगे बढ़ रही है ये बात पता चल सकती है। 
    • इन्शुरन्स लाइन मे रिलायंस कैपिटल की देवलपमेंट अच्छी हुई है। 
    • शेयर की आज की प्राइस ४८ रूपये है और अगर आप मुझे पूछेंगे तो मे आपको ये शेयर अभी लेकर लम्बे समय तक  होल्ड करने की सलाह दूंगा क्यों की आने वाले ५ साल मे शेयर के प्राइस के साथ साथ शेयर का डिविडेंड यील्ड रेश्यो भी बढ़ता जा सकता है। 

    २) कैस्ट्रॉल इंडिया लिमिटेड :(Castrol India Limited )



    • कैस्ट्रॉल इंडिया कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर है ओमर डोरमें है 
    • कंपनी का मुख्या प्रोडक्शन केमिकल  लुब्रिकेंट्स से जुड़ा है। 
    • कैस्ट्रॉल इंडिया लिमिटेड की अब की मार्किट प्राइस है ११९ रुपये। 
    • अगर आप इस शेयर का पिछले ४ साल का रिकॉर्ड चेक करेंगे तो आप देखेंगे की नेट सेल्स ४ प्रतिशत से ज्यूडा बड़ा है PAT भी ११ प्रतिशत से ऊपर है। 
    • रीनॉल्ट ग्रुप ने हल ही मे इंजन आयल लुब्रिकेंट्स के लिए कैस्ट्रॉल इंडिया को टेंडर दिया है। 
    • २०२० तक कंपनी का सिलवासा प्रोजेक्ट की कपैसिटी बढ़ने की संभावना है। 
    • कंपनी के चार्ट के ऊपर भी नजर डालेंगे तो आप को पता चलता है की चार्ट ऊपर जा रहा है और बड़े ब्रोकरेज हाउस ने इसपर १५३ का टारगेट दिया है। 
    • कैस्ट्रॉल इंडिया भारत की अग्रगण्य लुब्रीकेंट कंपनी है 
    • कंपनी की सबसे ज्यादा होल्डिंग LIC के पास है। 
    • और सबसे महत्वपूर्ण बात ५१ प्रतिशत शेयर प्रमोटर्स ने होल्ड किये है। 
    • आने वाले साल २०१९ और २० मे कंपनी का नेट प्रॉफिट ३ से ४ मिलियन INR से बढ़ने  की संभावना है। और इससे डिविडेंड यील्ड रेश्यो ३ से ४ प्रतिशत बढ़ेगा। 
    • मे आपको इस शेयर को खरीदकर ४ से ५ साल तक होल्ड करने की सलाह दूंगा। 

    ३) ग्रेव्स कॉटन :(Graves Cotton ) :



    •  ग्रेव्स कॉटन कंपनी के चैयरमेन है कारन थापर। 
    • इस कंपनी के मुख्या प्रोडक्शन इंजिन्स और इंडस्रीअल मशीनरी का है। 
    • कंपनी के शेयर की Face वैल्यू २ रुपये प्रति शेयर है। 
    • कंपनी की CMP ११७ रुपये है। 
    • कंपनी का ५२ वीक हाई प्राइस है १६५ और लौ रहा है १११। 
    • फाइनेंसियल ईयर २०१९ के ४ थे क्वार्टर मे सभी ७ प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। इससे इंजिन्स सेक्टर के कंपनी के शेयर ऊपर बढे है। 
    • साल २०१८ के फाइनेंसियल ईयर का PAT २०२६ करोड़ रहा था जबकि साल २०२१ तक २४५० करोड़ तक जाने कि संभावना है। 
    • ग्रेव्स कॉटन अपना अंतरिम और फाइनल डिविडेंड फेब्रुअरी और अगस्त के महीने मे देती है फेब्रुअरी२०१९ मे GRAVES COTTON कंपनी ने २०० प्रतिशत डिविडेंड यील्ड दिया था। 
    • जबकि कंपनी की जून २०१९ की EPS लगभग १.४६ प्रति शेयर रही थी। 
    • Graves Cotton की प्रमोटर्स शेयर होल्डिंग ५२ प्रतिशत है और पिछले ४ साल से और बढ़ रही है। 
    • मार्च २०१९ मे कंपनी ने ४ रूपये प्रति शेयर का डिविडेंड दिया था। 
    • हलाकि अभी शेयर की प्राइस दिए गए टारगेट को छुए बिना निचे दिख रही है लेकिन मुझे लगता है की यही समय समय शेयर को ख़रीदनेका और लम्बे समय तक होल्ड करके अच्छे डिविडेंड लेने का। 

    ४) हीरो मोटोकॉर्प :(Hero Motocorp)



    • हीरो मोटोकॉर्प ऑटोमोबाइल्स two व्हीलर बाइक्स बनाने मे देश के सबसे बड़े कंपनी मे से १ है। 
    • Hero Motocorp कंपनी के हाल के चैयरमेन है पवन  मुंजाल 
    • बाकि शेयर के मुकाबले कंपनी की प्रमोटर्स कम यनेकी ३४ प्रतिशत है लेकिन कंपनी के विकास और लोकप्रियता देखकर बोहोत सरे लोग इस कंपनी के शेयर खरदीने के लिए तैयार रहते है और इसी के कारन इस कंपनी के शेयर बोहोत बड़ा उयर चढाव देखने को मिलता है। 
    • इस कंपनी मे  इन्शुरन्स कंपनी की होल्डिंग सबसे ज्यादा दिखाए देती है। 
    • हीरो मोटोकॉर्प का आखिरी डिविडेंड १०२ रुपये पैर  जुले २०१६ को शेयर दिया था। 
    • और डिविडेंड यील्ड रेश्यो 2.२ प्रतिशत रहा था। और ५ साल का एवरेज डिविडेंड रेश्यो है ३. १ प्रतिशत 
    •  कंपनी बेसिक EPS जून २०१९ मे ६२ रुपये था। 
    • आने वाले समय मे एलेट्रिक बाइक की लोकप्रियता और गवर्नमेंट की पालिसी देखते हुए कंपनी ने इस क्षेत्र मे बोहोत बड़ी इन्वेस्टमेंट की है। 
    • शेयर की हाल की प्राइस मार्किट प्राइस है २६२२ रुपये और एलेट्रिक वेहिकल्स की डिमांड बढ़ रही है आगे जाकर कंपनी इस काम करके बोहोत आगे जा सकती है। 
    • मेरी राय इस शेयर को खरीदकर कम से कम ५ साल होल्ड करने की होगी। 

      ५) हिन्दुस्थान पेर्ट्रोलियएम कोरोप्रेशन :(Hindustan Petroliuem Corp )(HPCL )


    • HPCL कंपनी के ceo मुकेश कुमार सुराणा है। 
    • कंपनी का मुख्या प्रोडक्शन OIL ,GAS और उपयोगजन्य पेट्रोल डीजल है। 
    • HPCL एक पब्लिक सेक्टर कंपनी है और इसमे प्रमोटर्स की होल्डिंग कुछ भी नहीं है और इसमे सबसे ज्यादा भारत के आम लोगो की होल्डिंग ज्यादा है। 
    •  HPCL ने मार्च २०१९ १६ रुपये प्रति शेयर डिविडेंड दिया था और उस समय कंपनी की EPS ४४ रुपये दिखाई देती है। 
    • जबकि नेट प्रॉफिट मार्च २०१९ मे ५७६० करोड़ है। 
    • कंपनी की आज की प्राइस २४७ रुपये है। और कंपनी के कुछ प्लांट बंद होने से कंपनी के शेयर पिछले महीने मे गिरावट देखने को मिली है। 
    • जैसे की मैंने पहले बताया की सौंपने पब्लिक सेक्टर मे आती है और आयल गैस जैसे बोहोत मूल्यवान क्षेत्र प्रोसक्शन होने के कारन कंपनी के शेयर ज्यादातर स्टेबल होते है और आप इसको ५ साल तक होल्ड करके अच्छी डिविडेंड कमा सकते है। 
    • कंपनी के डिविडेंड यील्ड रेश्यो २०१९ मे ४.९ प्रतिशत रहा है और एवरेज ५ साल का भी लगभग शामे यानेकी ४.७ प्रतिशत रहा है। 

    ६) इंडिया बुल्स हाउसिंग फाइनेंस :(India Bulls Housing Finance )


    • इंडिया बुल्स कंपनी के फाउंडर और चैयरमेन है समीर गेहलोत। 
    • इंडिया बुल्स कंपनी मुख्या तौर पर थ्रिफ़्ट्स और Mortage  फाइनेंस के क्षेत्र मे सक्रिय है। 
    • शेयर की फेस वैल्यू २ रुपये प्रति शेयर है। 
    • कंपनी की आज की CMP है ५०५ रुपये। 
    • कंपनी का मार्किट कैपिटल २१६०३ करोड़ तक पहुंच गया है। 
    • इस शेयर मे साल भर मे बोहोत ज्यादा शार्ट टर्म सेलिंग देखने को मिली है इसके कारन शेयर लगातार हलचल मे रहा था। 
    • india bulls aug  २०१९ को अपना अंतरिम डिविडेंड घोषित किया है। 
    • मार्च २०१९ को कंपनी का बेसिक EPS ९५ पैर शेयर था। 
    • प्राइवेट कंपनी होने के बावजूद भी कंपनी के प्रमोटर्स शेयर सिर्फ २१ प्रतिशत है लेकिन कंपनी का फिनांकिअल्स देखने के बाद इससे ज्यादा फरक नहीं पड़ता है। 
    • कंपनी का प्रॉफिट मार्च २०१९ मे पिछले साल के मुकाबले २ प्रतिशत बढ़ा है और और बढ़ने की संभावना है। 
    • हलाकि अभी इस शेयर मे गिरावट आ रही है लेकिन लम्बे समय के लिए होल्ड करके आप इससे डिविडेंड प् सकते है क्यों की कंपनी का एवरेज डिविडेंड रेश्यो ५ प्रतिशत है  अच्छा माना जा सकता है.

    ७) इन्फोएसिस लिमिटेड :(Infosys Ltd) 


    • Infoysys के CEO नंदन नीलेकणि है। 
    • वैसे बोहोत सरे बार इन्फ़ोसिस का सुर्खियों मे रहा है और इस कंपनी का शेयर भी बोहोत लोक[प्रिय है आप भी सुने होंगे इसके बारे मे बोहोत कुछ चलिए जानते है क्या है खास। 
    • इन्फोएसिस IT इंडस्ट्री मे सबसे बड़ी कंपनी मानी जाती है। जो की सॉफ्टवेर डेवलप्मेंट मे आता है। 
    • कंपनी की हाल की CMP ७९० रुपये है। 
    • इन्फोएसिस की फेस वैल्यू ५ रुपये है। 
    • PE रेश्यो भी काफी अच्छा यनेकी २३ के ऊपर का है। 
    •  कंपनी ने अपना फाइनल डिविडेंड जून २०१९ को २१० प्रतिशत जाहिर किया था। 
    • कंपनी का नेट प्रॉफिट साल २०१९ मे ४ करोड़ का आसपास रहा। 
    •  इन्फोएसिस का शेयर बेसिस EPS ३६ रुपये प्रति शेयर है। 
    • कंपनी मे प्रमोटर्स की होल्डिंग सिर्फ १४ प्रतिशत है और डायरेक्ट निवेशक की होल्डिंग सबसे ज्यादा ४४ प्रतिशत है। 
    • इन्फोएसिस एक सॉफ्टवेर कंपनी है और IT सेक्टर बोहोत तेज़ी से आगे बढ़ रहा है ऐसे मे आपके पास इस क्षेत्र का शेयर होना मुझे तो जरुऋ लगता है जिससे आपके पर्टोफोलिओ और अच्छा हो जायेगा मे आपको इस शेयर को ५ साल के लिए  डिविडेंड के लिए होल्ड करने की सलाह दूंगा अब का डिविडेंड यील्ड रेश्यो ३३. प्रतिशत है। 

    मे आपको बताना चाहूंगा है इन सब शेयर पर मैंने खुद रिसर्च का के आपके सामने रखे लेकिन फिर भी शेयर मार्किट को अच्छी तरह जानना इतना आसान नहीं है। शेयर मार्किट एक अनिश्चितता है इसलिए आपको बताना चाहूंगा की कोई भी शेयर खरदने से पहले पहले खुद का एक अलग रिसर्च करना जरुरी है जिससे आपको शेयर पर विश्वास हो जायेगा। अगर कुछ सवाल हो तो कमेंट करके बताना। 

    कुछ अन्य उपयोगी लेख 



    टिप्पणी पोस्ट करें

    0 टिप्पणियां